भोपाल| उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल (Anandiben Patel)  को मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के राज्यपाल का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है| लालजी टंडन के अस्वस्थ होने के चलते उनकी अनुपस्थिति में आनंदी बेन प्रदेश के राज्यपाल की जिम्मेदारी संभालेंगी| राष्ट्रपति भवन से इस सम्बन्ध में सूचना जारी की गई है| इधर, शिवराज कैबिनेट के विस्तार का रास्ता साफ़ हो गया है| मुख्यमंत्री शिवराज दिल्ली यात्रा पर है, जहां केंद्रीय नेतृत्व से चर्चा के बाद मंत्रिमंडल विस्तार पर फैसला लिया जा सकता है|

मध्य प्रदेश में मंत्रिमंडल का विस्तार जल्द होने वाला है| लेकिन राज्यपाल लालजी टंडन के अस्वस्थ होने के चलते इस बात के कयास लगाए जा रहे थे कि पूर्व में मध्य प्रदेश की राज्यपाल रह चुकीं आनंदी बेन पटेल को अतिरिक्त प्रभार सौंपा जा सकता है| इस बीच राष्ट्रपति भवन द्वारा इस सम्बन्ध में सूचना जारी कर दी| राष्ट्रपति भवन द्वारा जारी बयान में कहा गया है कि भारत के राष्ट्रपति ने लाल जी टंडन की अनुपस्थिति के दौरान मध्यप्रदेश के राज्यपाल के कार्य का निर्वहन करने के लिए उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को नियुक्त किया गया है।

दिल्ली में फाइनल होंगे नाम, 30 को हो सकता है शपथ समारोह
अब नए मंत्रियों के नाम फाइनल होते ही मंत्रिमंडल विस्तार होना तय है| नए मंत्रियों को आनंदी बेन पटेल शपथ दिलाएंगी| मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान संभावित मंत्रियों की सूची के साथ रविवार शाम दिल्ली रवाना हो गए हैं, जहां वे मप्र से जुड़े बड़े नेताओं के साथ पार्टी के राष्ट्रीय नेतृत्व के संग चर्चा कर नामों को अंतिम रूप देंगे। सीएम शिवराज के साथ प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और संगठन महामंत्री सुहास भगत भी दिल्ली रवाना हुए हैं। संभवतः 30 जून को नए मंत्रियों का शपथ समारोह होगा।

लालजी टंडन के स्वास्थ्य में सुधार
लखनऊ के मेदांता अस्पताल में भर्ती लालजी टंडन के स्वास्थ्य में लगातार सुधार हो रहा है। राजभवन ने यहां लखनऊ में उनका इलाज कर रहे चिकित्सकों की ओर से जारी बुलेटिन के हवाले से यह जानकारी दी है। इसमें कहा गया है कि टंडन के स्वास्थ्य में लगातार सुधार हो रहा है। उनका मधुमेह नियंत्रण में है। किडनी, लीवर और हार्ट पहले से बेहतर हैं। उन्हें जल्द ही आईसीयू से कमरे में शिफ्ट किया जा सकता है।