मध्य प्रदेश की बड़ी उपलब्धि , कोरोना रिकवरी के मामले में देश में नंबर-1 पर पहुंचा MP

भोपाल| वैश्विक महामारी बन चुके कोरोना (Corona) के बारे में अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) का आह्वान है कि कोरोना के साथ ही जीना है क्योंकि जान के साथ-साथ जहान का भी ख्याल रखना है। इसी बात को मूल मंत्र मानते हुए मध्य प्रदेश की सरकार (Madhya Pradesh Government) भी लोगों के मन से कोरोना का भय हटाने के साथ-साथ उसका समुचित और सर्वश्रेष्ठ उपचार करने की दिशा में तेजी से काम कर रही है । मध्य प्रदेश के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) ने यह बात गुरुवार को पत्रकारों से कही।

मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने प्रदेश के आंकड़े देते हुए बताया कि अब तक मध्यप्रदेश में कोरोना मरीजों का रिकवरी रेट 64.3% हो गया है जो देश में सर्वश्रेष्ठ है। इसके साथ-साथ अब प्रदेश में केवल 5 जिले ऐसे बचे हैं जिनमें कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 100 से ज्यादा है । मध्यप्रदेश में अब कुल एक्टिव केस 2748 बचे हैं । जहां देश में कोरोना मरीजों की संख्या दुगनी होने की दर 16 दिन है वहीं मध्यप्रदेश में यह अब 31 दिन हो गई है। मध्यप्रदेश अब रोजाना छह हजार टेस्ट करने की क्षमता लैस हो गया है ।

गुरुवार को मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य मंत्री के साथ बुरहानपुर ,श्योपुर और बैतूल जिलों की समीक्षा की । उसके साथ-साथ खंडवा मेडिकल कॉलेज की भी समीक्षा की गई । मुख्यमंत्री के निर्देश पर सागर मेडिकल कॉलेज के डीन को तुरंत हटाने के निर्देश भी दिए गए। इसके साथ-साथ खंडवा मेडिकल कॉलेज में हुई मौत की जांच के आदेश भी दिए गए हैं। देश भर में जहां बुधवार को नए कोरोनाव पाजिटिवो की संख्या 9304 थी वहीं मध्यप्रदेश में यह महज 184 थी । स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि इससे ज्यादा संख्या मध्यप्रदेश में रोजाना ठीक होने वाले मरीजों की है।