भोपाल| उपचुनाव (By Election) से पहले ऑडियो-वीडियो वायरल होने से सियासत गरमाई हुई है| पहले नेताओं के ऑडियो वायरल हुए और फिर इस पर सियासत थमी भी नहीं थी कि साेशल मीडिया पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) के एक एडिटेड वीडियो वायरल होने से नया बखेड़ा खड़ा हो गया| इस मामले में भाजपा की शिकायत पर क्राइम ब्रांच ने पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह  (Digvijay Singh) समेत 12 लोगों पर केस दर्ज किया है। इधर, सीएम शिवराज ने हमला बोलते हुए कहा दिग्विजय सिंह इंटरनेशनल झूठे हैं, हमने इतना बड़ा झूठा कभी नहीं देखा|

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने रायसेन में रैली कर इसका आगाज किया। इस दौरान मीडिया से चर्चा करते हुए उन्होंने दिग्विजय पर तंज कसा| उन्होंने कहा दिग्विजय इंटरनेशनल झूठे हैं, हमने कभी नहीं देखा इतना बड़ा झूठा| विपक्ष में रहने के दौरान उन्होंने शराब नीति का विरोध किया था, उपदुकानों का विरोध किया था, इसलिए मेने कहा था कि सरकार तो चाहती है कि लोग पिएं और पड़े रहे| इसी वीडियो को एडिट कर वायरल किया गया| जनता को भ्रमित करने की कोशिश की है इसलिए भाजपा ने शिकायत दर्ज की है|

इधर, इस संबंध में दिग्विजय ने कहा है कि मैंने शिवराज सिंह चौहान के इलाके में आदिवासियों को ठगे जाने का मामला उठाया, उसी से डरकर भाजपा ने मेरे खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। इस बात की भी जांच होना चाहिए कि इस वीडियो में छेड़छाड़ किसने की है।