विभाग बंटवारे पर अंतिम समय में फंसा पेंच, देर रात तक जारी नहीं हुई आधिकारिक सूची

भोपाल| मंत्रिमंडल विस्तार (Shivraj Cabinet Expansion) के बाद मंत्रियों को विभागों के बंटवारे (Portfolio Distribution) में भी अंतिम समय तक खींचतान चलती रही| मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) के बयान के बाद साफ़ हो गया था कि रविवार को हर हाल में मंत्रियों को विभागों का बांटवारा कर दिया जाएगा| लेकिन अंतिम समय में फिर पेंच फंस गया और देर रात तक फाइनल सूची अटकी रही| हालांकि कुछ मंत्रियों को मिलने वाले विभागों की जानकारी पहले ही लीक हो गई|

बताया जा रहा है कि भाजपा के दिग्गज नेता और वरिष्ठ मंत्री को मिलने वाले विभाग को लेकर नाराजगी के चलते अंतिम समय में सूची में बदलाव किया गया| इसको लेकर देर रात तक माथापच्ची चलती रही| मंत्रियों को विभागों के बंटवारे के बाद सोमवार को कैबिनेट की बैठक दोपहर तीन बजे बुलाई गई है| नए मंत्रियों के साथ होने वाली पहली कैबिनेट बैठक में बड़े फैसले लिए जा सकते हैं| संभवतः सोमवार को ही कैबिनेट बैठक से पहले मंत्रियों के विभागों की सूची जारी की जायेगी|

इससे पहले मंत्रियों को मिलने वाले विभागों को लेकर जो जानकारी सामने आई उसके मुताबिक मंत्री गोपाल भार्गव को पीडब्ल्यूडी विभाग, जगदीश देवड़ा वित्त मंत्री, भूपेंद्र सिंह को नगरीय प्रशासन, मंत्री इमरती देवी महिला एवं बाल विकास, महेंद्र सिंह सिसोदिया स्वास्थ्य मंत्री, मोहन यादव उच्च शिक्षा विभाग, ओमप्रकाश सकलेचा को लघु एवं सूक्ष्म विभाग, एंदल सिंह कंसाना को पीएचई और राजवर्धन सिंह दत्तीगांव को उद्योग विभाग, बिसाहू लाल खाद्य एवं आपूर्ति विभाग, अरविंद भदौरिया सहकारिता, विश्वास सारंग तकनीकी शिक्षा, गोविन्द सिंह राजपूत को परिवहन विभाग संभावित सूची में शामिल है|