कॉलेजों में समाप्त हुई एडमिशन प्रक्रिया, यूजी में पिछली बार से कम हुए एडमिशन

IGNOU

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में सरकारी (Government) और निजी कॉलेज (Private Collage) में यूजी-पीजी (UG-PG) की एडमिशन प्रक्रिया (Admission Process) अब समाप्त हो गई। आखिर तक यूजी में 420244 और पीजी में 1 लाख 29 हजार से ज्यादा एडमिशन हुए हैं। यूजी-पीजी में कुल 5 लाख 49 हजार से ज्यादा एडमिशन हुए। पिछले साल से यूजी-पीजी में 13000 ज्यादा एडमिशन इस बार हुए। इसके बाद भी यूजी-पीजी की 5 लाख से ज्यादा सीटें इस बार खाली रह गई है।

इस बार यूजी में पिछली बार से कम और पीजी में पिछले साल से ज्यादा एडमिशन हुए। वहीं इस बार B.Ed में 52 हजार एडमिशन हुए हैं, जो अब तक के सबसे ज्यादा है। B.Ed की लगभग सभी सीटें फुल हो गई हैं। गौरतलब है कि प्रदेश के सरकारी और निजी कॉलेज में खाली 10 लाख से ज्यादा सीटों के लिए एडमिशन प्रक्रिया चल रही है। कोरोना संक्रमण की वजह से इस बार एडमिशन प्रक्रिया पूरी तरह से ऑनलाइन (Online) हुई थी। एडमिशन प्रक्रिया के साथ उच्च शिक्षा विभाग ने फीस भी ऑनलाइन ही जमा कराई थी। दस्तावेज के सत्यापन की प्रक्रिया भी ऑनलाइन रखी गई थी।

खास बात यह है कि इस बार कॉलेज लेवल काउंसलिंग (Collage Level Counciling) में कम एडमिशन हुए। ज्यादातर एडमिशन ऑनलाइन काउंसलिंग के जरिए ही हो गए थे। ऑनलाइन काउंसलिंग में 4 लाख 87 हजार एडमिशन हो गए थे। वहीं सीएलसी में करीब 57 हजार एडमिशन हुए।

20 तक प्रमोट होंगे छात्र
उच्च शिक्षा विभाग ने यूजी दूसरे तीसरे वर्ष और पीजी तीसरे सेमेस्टर के छात्रों को प्रमोट करने की तारीख में भी बढ़ोतरी कर दी है। पहले प्रमोट किए जाने की आखिरी तारीख 10 नवंबर निर्धारित थी, इसे बढ़ाकर 20 नवंबर तक कर दी है।