मौसम के बदले मिजाज, अगले हफ्ते से पड़ेगी प्रदेश में कड़ाके की ठंड

भोपाल।

नवंबर के तीसरे सप्ताह में मध्यप्रदेश के मौसम में लगातार बदलाव देखने को मिल रहा है। तापमान में उतार-चढ़ाव का दाैर जारी है। कही सुबह कोहरे की छटा नजर आने लगी है तो कही रात में ओस की बूंदे माहौल में ठंडक घोल रही है।मौसम विभाग की माने तो आने वाले तीन-चार दिनों में प्रदेशभर में कड़ाके की ठंड पड़ने के आसार है। अभी वेस्टर्न डिस्टरबेंस जम्मू-कश्मीर के आसपास है। 24 नवंबर तक इसके आगे बढ़ने के आसार हैं। इसके प्रभाव से तीन-चार दिन बाद तापमान में दाे से तीन डिग्री की गिरावट के साथ पारा 12 डिग्री तक पहुंच सकता है। ऐसे में ठंड बढ़ने का अनुमान है।

तापमान की बात करे तो गुरुवार काे जहां रात के तापमान में 2.5 डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई, वहीं दिन के तापमान में 1.2 डिग्री सेल्सियस का इजाफा हुआ। ऐसे में रात का तापमान 17 से घटकर 14.5 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। माैसम वैज्ञानिकाें का अनुमान है कि तापमान में उतार-चढ़ाव का यह दाैर अभी जारी रहेगा।इससे आगामी दिनों मे ठंड बढ़ने के आसार है।विभाग के अनुसार, आने वाले दिनों के अंदर पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत क्षेत्र से होकर आगे बढ़ जाएगा। इस सिस्टम के असर से उत्तर भारत के पहाड़ों पर बर्फबारी, बरसात होगी। इस सिस्टम के आगे बढ़ते ही हवाओं का रुख एक बार फिर उत्तरी हो जाएगा। उत्तर भारत की तरफ से आने वाली सर्द हवाओं से प्रदेश में रात के तापमान में गिरावट दर्ज होने लगेगी।

आम तौर पर ठंड 15 नवंबर तक अपना असर दिखाने लगती है। पिछले साल की तरह इस बार भी 15 नवंबर के बाद ठंड ने अपना तेज असर दिखाया है। इस बार बारिश की तरह ठंड भी जोरदार रहने की उम्मीद है। मौसम विभाग का कहना है कि उत्तर में बर्फबारी हो रही है। उत्तर से आने वाली हवा का पैटर्न सेट होने लगा है। इस समय फसलों में जड़माऊ की बीमारी का प्रकोप शुरू हुआ है। इससे बचने के लिए सावधानीपूर्वक सिंचाई से पहले दवा का उपयोग करें। ताकि यह बीमारी खत्म हो सके।