मंदसौर के बाद बड़वानी में भाजपा नेता की हत्या को लेकर सियासत तेज, आमने सामने हुई बीजेपी-कांग्रेस

MP Politics

भोपाल। मंदसौर के बाद बड़वानी में बीजेपी नेता मनोज ठाकरे की हत्या को लेकर अब राजनीति शुरु हो गई है। भाजपा द्वारा कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े किए जा रहे है। वही कांग्रेस पलटवार करने से पीछे नही हट रही है। अब मनोज ठाकरे की हत्या को लेकर जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने भाजपा नेता की हत्या में बीजेपी के लोगों का ही हाथ बताया है। वही शर्मा के बयान पर पूर्व मंत्री विश्वास सारंग ने पलटवार करते हुए कहा है कि जांच से पहले सरकार के मंत्री ऐसे बयान दे रहे है। मामले की जांच से पहले ऐसे बयान देना गलत है। इन्हें सरकार से हटाया जाए।

दरअसल, आज मीडिया से चर्चा के दौरान बड़वानी में हुई भाजपा नेता की हत्या पर पीसी शर्मा ने कहा है कि मंदसौर जैसे बड़वानी में भी बीजेपी के लोगों का ही हत्या में हाथ होगा। वही उनके इस बयान पर सारंग ने पलटवार करते हुए कहा कि बदले की भावना से यह सरकार काम कर रही है। डेढ़ महीने में प्रदेश के हालात बिगड़ गए है। मुख्यमंत्री विदेश घूम रहे है । बड़ा आश्चर्य हो रहा है कि बिना जांच के सरकार के मंत्री ऐसे बयान दे रहे है। मामले की जांच से पहले ऐसे बयान देना गलत है। इन्हें सरकार से हटाया जाए। जैसे बंगाल में ममता बनर्जी अपने विरोधियों के खिलाफ सरकार चला रही है यही हाल मध्य प्रदेश में है। मैं मंत्री पी सी शर्मा की बात का खंडन करता हूं। गैर जिम्मेदाराना बयान देकर कांग्रेस के नौसिखिए मंत्री अनर्गल बाते कर रहे है। मेरी अपील है कि कांग्रेसियों से की प्रदेश की व्यवस्था को डिरेल न करे|

वही शर्मा ने ईसाई समाज के लोगों के धर्मांतरण मामले वापस लेने पर कहा कि कई लोगों पर फर्जी मामले दर्ज करवा दिए गए है।ऐसे मामलों में रिलेक्सेशन दिया जायेगा। केंद्र सरकार से लाडली लक्ष्मी अवॉर्ड मिलने पर जनसंपर्क मंत्री ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि बीजेपी राज में लड़कियां बची कहां थी, हमने लड़कियों को बचाने का काम शुरू किया था।व्यापमं मामले में सीबीआई से क्लीन चिट दिए जाने पर जनसंपर्क मंत्री ने कहा कि पूरे मामले की फिर से जांच कराई जाएगी। किसी भी आरोपी को बख्शा नहीं जायेगा।जिस पर सारंग ने कहा कि असली दोषीयो को कांग्रेस ने ही बचाया था। जब हमने जांच करवाई सब क्लियर हुआ और अब कांग्रेस इस पर भी बयानबाजी कर रही है।कांग्रेस के मंत्रियों की हालत बंदर के हाथ उस्तरा लग गया जैसी है। 

गौरतलब है कि आज रविवार सुबह सेंधवा जिले के बलवाड़ी भाजपा मंडल अध्यक्ष मनोज ठाकरे की हत्या कर दी गई है। उनका शव बलवाड़ी-सेंधवा रोड पर मिला है। वह सुबह घर से मॉर्निंग वॉक पर निकले थे। उनका सिर पत्थर से कुचला हुआ मिला है। माना जा रहा है कि सिर पर पत्थर मारकर उनकी हत्या की गई है। शव के पास खून से सना पत्थर भी मिला है। उनका शव जिस स्थान पर मिला है वह वारला पुलिस थाने के अंतर्गत आता है। हालांकि, अभी यह स्प्ष्ट नहीं है कि बीजेपी नेता की हत्या हुई है या फिर क्या मसला है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। इसके पहले मंदसौर में भाजपा नेता प्रहलाद बंंधवार की गोलीमार कर हत्या कर दी गई थी। प्रदेश में लगातार दो भाजपा नेताओं की हत्या से हड़कंप मच गया है और समर्थकों और कार्यकर्ताओं में आक्रोश है। इस मामले को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ सरकार पर हमला बोला और और इसके खिलाफ में सड़क पर उतरने की चेतावनी दी है।