एक और हनीट्रैप: लड़की के जाल में फंसाकर करते थे ब्लैकमेल, नकली पुलिस मारती थी रेड

पुलिस ने गिरोह के मुख्य सरगना समेत एक युवती को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि दो अन्य आरोपी फरार है

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट| राजधानी भोपाल (Bhopal) में एक बार फिर हनीट्रैप (Honeytrap) का मामला सामने आया है| यहां पिपलानी इलाके में पुलिस (Police) ने एक ऐसे गिरोह का पर्दाफ़ाश किया है, जो लड़की के जाल में फंसाकर बंद कमरे में ले जाते थे, फिर गिरोह के अन्य साथी नकली पुलिस बनकर रैड मारते थे| जिसके बाद पीड़ित से रुपयों की ठगी की जाती थी| पुलिस ने गिरोह के मुख्य सरगना समेत एक युवती को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि दो अन्य आरोपी फरार है|

जानकारी के मुताबिक पिपलानी निवासी एक युवक को उसके दोस्त अंटू उर्फ़ कौशल ने एक लड़की से दोस्ती कराकर कतरा हिल्स स्थित एक फ्लेट में ले गया| जहां फरियादी और युवती को कमरे में बंद कर दिया| जिसके बाद अपने साथी योगेंद्र विश्वकर्मा और आलोक शर्मा को बुला लिया| कमरे के अंदर जाकर दोनों ने नकली पुलिस बनकर फरियादी से 11000 नगद और 2 तोला वजनी सोने की चेन छीन ली और धमकी दी कि रिपोर्ट की तो बलात्कार के केस में फंसा देंगे|

पीड़ित युवक ने डर के कारण पुलिस में रिपोर्ट नहीं की| लेकिन बाद में वरिष्ठ कार्यालय में लिखित शिकायत की गई | जिसकी जांच पर आरोपी योगेंद्र विश्वकर्मा और युवती को पुलिस ने गुरूवार को गिरफ्तार कर लिया है | इसके साथ ही घटना में उपयोग की गई इंडिका वाहन भी जप्त की गई है|मामले में आरोपी आलोक शर्मा और अंटू उर्फ कौशल की तलाश जारी है|

आरोपी योगेंद्र विश्वकर्मा मुख्य सरगना है इसके कई युवतियों से संपर्क है| पूर्व में भी यह अन्य युवतियों के साथ गिरफ्तार हो चुका है | आरोपियों को भारतीय दंड संहिता की धारा 392 506 में गिरफ्तार कर आरोपियों से फरियादी की लूटी गई चेन जो मुथूट फाइनेंस में गिरवी रखी है को जप्त कर पुलिस रिमांड की कार्रवाई की गई है|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here