एक और सिंधिया समर्थक ने छोड़ी BJP, प्रभारी मंत्री पर लगाए दबंगई और भ्रष्टाचार के संगीन आरोप

पूर्व विधायक स्व. देवेंद्र सिंह रघुवंशी की पुत्री अंशु रघुवंशी ने बीजेपी से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने पार्टी पर उपेक्षा और भ्रष्टाचार के आरोप लगाए है।

BHOPAL  NEWS : मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले हलचल जारी है, अब एक और सिंधिया समर्थक ने बीजेपी की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। यह इस्तीफा महिला नेत्री ने दिया है,  पूर्व विधायक स्व. देवेंद्र सिंह रघुवंशी की पुत्री अंशु रघुवंशी ने बीजेपी से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने पार्टी पर उपेक्षा और भ्रष्टाचार के आरोप लगाए है। बताया गया कि शनिवार 2 सितंबर को वह कमलनाथ के सामने कांग्रेस में शामिल होंगी।

लगाए गंभीर आरोप 

अंशु रघुवंशी ने अपने इस्तीफे में गंभीर आरोप लगाए है ,उन्होंने पत्र में लिखा जिस उद्देश्य के साथ हम कार्य कर रहे थे वह पूर्ण नहीं हो रहा है और मूल कार्यकर्ताओं की लगातार उपेक्षा की जा रही है व भ्रष्टाचार की चरम सीमा पर है। हम अपने ही कार्यकर्ताओं के कार्य नहीं करवा पा रहे हैं, जब हम अपने ही कार्यकर्ताओं का काम नहीं करा पा रहे है तो ऐसी पार्टी में रहने का कोई उद्देश बिलकुल भी नहीं रह जाता है। अंशु ने गुना के प्रभारी मंत्री प्रघुमन सिंह पर भी दबंगई और भ्रष्टाचार के आरोप लगाए है, बता दें कि अंशु ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ भाजपा में शामिल हुई थी।

मची खलबली 

मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनाव  से पहले बीजेपी में खलबली मच गई है। मध्यप्रदेश में बीजेपी को एक के बाद एक बड़े झटके लग रहे है, अंशु से पहले शुक्रवार को कोलारस से बीजेपी विधायक वीरेंद्र रघुवंशी ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया था । उन्होंने अपना इस्तीफा जिला अध्यक्ष को भेज दिया था । इसके साथ ही अपने पत्र में ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थकों पर गंभीर आरोप लगाए थे। विधायक वीरेंद्र रघुवंशी ने कहा था कि मैं अपनी पीड़ा मुख्यमंत्री को बता चुका हैं। नए भाजपाइयों से पुराने लोग त्रस्त हैं। हमारी कोई सुनवाई नहीं है। अब तक बीजेपी का बैजनाथ यादव, राकेश गुप्ता, रगहुराज धाकड़ सहित जितेंद्र जैन गौड़ साथ छोड़ चुके है।

एक और सिंधिया समर्थक ने छोड़ी BJP, प्रभारी मंत्री पर लगाए दबंगई और भ्रष्टाचार के संगीन आरोप