OBC Reservation : पूर्व उपाध्यक्ष का कांग्रेस पर तंज-जब सत्ता मिली थी तो क्या किया

OBC RESERVATION

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मप्र सरकार (MP Government) ने ओबीसी आरक्षण  (MP OBC Reservation) के तहत सरकारी भर्तियों और परीक्षाओं में 27% आरक्षण लागू कर दिया है, हालांकि जिन परीक्षाओं और भर्ती पर जबलपुर हाईकोर्ट ने लगाई हैं, उनमें रोक बरकरार रहेगी। इसको लेकर कांग्रेस, बीजेपी और शिवराज सरकार (Shivraj Government)  हमलावर हो चली है, इसी बीच मप्र राज्य सहकारी बैंक मर्यादित (अपेक्स बैंक) की पूर्व उपाध्यक्ष सरिता सिंह सेंगर का बड़ा बयान सामने आया है।उन्होंने कहा कि जब कांग्रेस को सरकार बनाने अवसर मिला था तब कमलनाथ जी को ओबीसी वर्ग की इतना चिंता क्यों नहीं हुई।

यह भी पढ़े.. CGPSC : पीएससी ने 595 पदों पर निकाली है भर्ती, 12 अक्टूबर तक कर सकते है अप्लाई

पूर्व उपाध्यक्ष सरिता सिंह सेंगर (Former Vice President of Apex Bank) का कहना है कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर पलटवार करते हुए सवाल उठाया कि जब कांग्रेस को सरकार बनाने अवसर मिला था तब कमलनाथ जी को ओबीसी वर्ग की इतना चिंता क्यों नहीं हुई। जितने दिन वह प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे, इनके लिए क्या किया।कमलनाथ ने सरकार (Kamal Nath Sarkar) में रहते हुए खुद ही आरक्षित वर्ग के साथ अन्याय किया और अब खुद के बनाये नियम को ही न्यायालय में चुनौती देकर उन्होंने अपनी इस महा-भूल को स्वयं स्वीकार लिया है। कमलनाथ ने मुख्यमंत्री रहते हुए खुद ही ऐसी व्यवस्था लागू की, जिससे OBC को 14 प्रतिशत से अधिक आरक्षण न मिल सके।  कांग्रेस की ऐसी गलत नीतियों तथा नियत के चलते  पिछड़ा वर्ग स्वयं को ठगा हुआ पा रहा है।

यह भी पढ़े.. खुशखबरी: कर्मचारियों के डीए में 5% वृद्धि, सीएम ने की घोषणा, इतना होगा सैलरी में इजाफा

पूर्व उपाध्यक्ष ने कांग्रेस पर ओबीसी वर्ग को 27 फीसदी आरक्षण (27% OBC Reservation) से वंचित करने का आरोप लगाते हुए  कहा कि झूठ बोलकर जनता को गुमराह करना तो कांग्रेस की पुरानी आदत है। ओबीसी आरक्षण पर कांग्रेस का दोहरा चरित्र तो न्यायालय में भी उजागर हुआ हो चुका है। अब उसी को छुपाने के लिए कांग्रेस के नेता झूठ बोलकर तरह तरह का स्वांग रच रहे हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान  द्वारा कोर्ट के स्टे वाली 3 परीक्षाओं के अतिरिक्त सभी परीक्षाओं तथा भर्तियों में OBC वर्ग को 27  प्रतिशत आरक्षण प्रदान करने का ऐतिहासिक निर्णय लागू करने पर मुख्यमंत्री का आभार जताते हुए कहा कि यह खुशी की बात है कि शेष तीन परीक्षाओं में आरक्षण पर स्टे हटाने के लिए भी राज्य सरकार संकल्पबद्ध है।

सड़कों को लेकर कमलनाथ और कांग्रेस को घेरा

धीमी बारिश के कारण खराब हुई सड़कों पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) के ट्वीट पर सरिता सिंह सेंगर ने कहा कि शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) के राज में तो आज गांवों में शानदार सड़के हो गई हैं। राज्य के कोने-कोने में आवागमन बहुत ही सरल और सहज हो गया है। सरिता सिंह ने कहा कि कांग्रेस के राज में तो सड़कें दूरबीन से देखने पर भी नहीं दिखती थीं। उन्होंने कहा कि बारिश के कारण सड़कों का खराब हो जाना स्वाभाविक है, पर स्वयं PWD मंत्री गोपाल भार्गव (Gopal Bhargwa) और स्वयं मुख्यमंत्री ने समीक्षा कर फिलहाल सड़कों के गड्ढे भरने के निर्देश दिए हैं, ताकि जनता को परेशानी से बचाया जा सके। बारिश खत्म होते ही सड़कें पक्के तौर पर सुधार दी जाएंगी।

सिंधिया की तारीफ

अपेक्स बैंक की पूर्व उपाध्यक्ष ने कहा कि केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) देश में हवाई सेवाओं के विस्तार और उन्नत क्षेत्रीय हवाई संपर्क के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की परिकल्पना को साकार करने में सतत सक्रिय हैं। मध्यप्रदेश से उनका नाता होने के कारण नागरिक उड्डयन के क्षेत्र में मध्यप्रदेश भी आने वाले समय में नई उड़ान भरेगा। देश में हवाई सेवाओं के विस्तार को लेकर सिंधिया लगातार सक्रिय हैं। हवाई सेवाओं से छोटे शहरों को जोड़ा जा रहा है। पीएम मोदी जी की जो इच्छा है कि हवाई चप्पल पहनने वाला व्यक्ति भी हवाई सफर कर सके। इस संकल्प को साकार करने के लिए सिंधिया सतत प्रयासरत हैं।