कक्षा-5वीं एवं 8वीं की प्राइवेट परीक्षा के लिए आवेदन शुरू, जून में हो सकते हैं एग्जाम

ऑनलाइन आवेदन करते समय विद्यार्थियों को सक्षम अधिकारी द्वारा जारी आयु प्रमाण-पत्र, मान्यता प्राप्त संस्था से कक्षा 5वीं उत्तीर्ण की अंक सूची, आधार कार्ड, समग्र आई-डी और पासपोर्ट साइज का नाम एवं दिनांक अंकित फोटो आवश्यकता होगी। परीक्षा माह जून 2021 में संभावित है।

JEE Main

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट| पांचवीं-आठवीं के प्राइवेट विद्यार्थियों की परीक्षा बोर्ड पैटर्न पर ली जाएगी| मध्यप्रदेश राज्य मुक्त स्कूल शिक्षा बोर्ड द्वारा आयोजित परीक्षा वर्ष-2021 के ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया प्रारंभ कर दी गई है। कक्षा-5वीं के लिये एक जनवरी-2021 को 11 वर्ष की आयु पूर्ण करने वाले और कक्षा-8वीं के लिये 14 वर्ष की आयु पूर्ण करने वाले विद्यार्थी इस परीक्षा के लिये आवेदन कर सकते हैं। कक्षा-8वीं के लिये आवेदन करते समय शैक्षणिक योग्यता मान्यता प्राप्त संस्था से कक्षा-5 उत्तीर्ण के पश्चात दो वर्ष का अंतराल आवश्यक होगा।

परीक्षा में शामिल होने वाले छात्र ऑनलाइन आवेदन एमपी ऑनलाइन www.mponline.gov.in और www.mpsos.nic.in पर कर सकते हैं| कक्षा-5वीं के लिये परीक्षा शुल्क 400 रुपये और कक्षा-8वीं के लिये 600 रुपये निर्धारित किया गया है। ऑनलाइन आवेदन करते समय विद्यार्थियों को सक्षम अधिकारी द्वारा जारी आयु प्रमाण-पत्र, मान्यता प्राप्त संस्था से कक्षा 5वीं उत्तीर्ण की अंक सूची, आधार कार्ड, समग्र आई-डी और पासपोर्ट साइज का नाम एवं दिनांक अंकित फोटो आवश्यकता होगी। परीक्षा माह जून 2021 में संभावित है।

परीक्षा के प्रवेश-पत्र www.mponline.gov.in और www.mpsos.nic.in से डाउनलोड किया जा सकेगा। परीक्षा-पत्र पर परीक्षा की समय सारणी और परीक्षा केन्द्र आदि की जानकारी प्रदर्शित होगी। अन्य कोई जानकारी के लिये फोन नम्बर 0755-2671066, 0755-2552106 पर सम्पर्क किया जा सकता है।

किसी विषम परिस्थिति के कारण कुछ बच्चे कक्षा 5वीं अथवा 8वीं की परीक्षा पूर्ण नहीं कर पाते हैं या प्रारंभिक परीक्षा पूर्ण करने के पूर्व ही शाला का त्याग कर देते हैं। भविष्य में उन्हें रोजगार के अवसर आदि के लिये कक्षा 5वीं अथवा 8वीं के प्रमाण-पत्र की आवश्यकता होती है। यह सभी विद्यार्थी शिक्षा की मुख्य धारा से जुड़ सकें, इसलिये शासन द्वारा इस वर्ष से कक्षा 5वीं एवं 8वीं की स्वाध्यायी परीक्षा बोर्ड पेटर्न पर आयोजित किये जाने की पहल की है।