भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर भोपाल एयरपोर्ट से हिरासत में

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। रविवार की सुबह से ही राजधानी भोपाल में गहमागहमी का माहौल रहा दरअसल आज राजधानी में एक बड़ा प्रदर्शन होना था लेकिन उसके पहले ही पुलिस ने मुस्तैदी दिखाई और प्रदर्शन के नेतृत्व को ही हिरासत में ले लिया, ओबीसी आरक्षण से जुड़े इस आंदोलन में शामिल होने के लिए भोपाल पहुंचे भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद को पुलिस ने एयरपोर्ट से ही हिरासत में ले लिया है। दरअसल ओबीसी संगठनों का रविवार को बड़ा प्रदर्शन होना था और इन संगठनों ने सीएम हाउस घेरने की चेतावनी दी थी, हालांकि उससे पहले ही पुलिस ने इनकी रणनीति को विफल कर दिया, प्रदर्शन करने वाले संगठनों की मांग है कि ओबीसी आरक्षण 27 प्रतिशत कर संसद या 9वीं अनुसूची में शामिल करने, बीजेपी सरकार द्वारा पंचायत चुनाव में पिछड़ा वर्ग को 51 प्रतिशत आरक्षण दिया जाए। अनुसूचित जाति को 8 प्रतिशत आरक्षण के विरुद्ध जनसंख्या के अनुसार 16 प्रतिशत आरक्षण दें, अनुसूचित जनजाति को 14 प्रतिशत आरक्षण के विरुद्ध जनसंख्या के मान से 20 प्रतिशत आरक्षण दिया जाए। आंदोलन के बहाने इस प्रदर्शन में भीम आर्मी, जय आदिवासी संगठन, आजाद समाज पार्टी शामिल होने वाले थे।

यह भी पढ़े.. बुरहानपुर में मिले दो युवक कोरोना पॉजिटिव, जिला प्रशासन ने किया अलर्ट जारी

भीम आर्मी के पदाधिकारियों ने ट्वीट कर जानकारी दी कि भोपाल एयरपोर्ट पर पुलिस पहले से ही चंद्रशेखर का इंतजार कर रही थी और उन्हें बाहर आते ही हिरासत में ले लिया गया। उधर ओबीसी आरक्षण को लेकर सियासत उफान पर है जिसके बाद भोपाल में आने वाली ट्रेनों और बसों को पुलिस चेक कर रही है। शहर में प्रवेश करने वाले रास्तों पर बैरिकेड्स लगाकर चेक किया जा रहा है। ओबीसी संगठनों ने रविवार को मुख्यमंत्री निवास के घेराव का ऐलान किया था जिसके बाद पुलिस सख्ती बरत रही है। जानकारी के मुताबिक ओबीसी संगठनों के प्रदर्शन के ऐलान के बाद रविवार को पुलिस ने जगह-जगह संगठन के कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया है। काफी लोग सुबह से ही एमएलए रेस्ट हाउस के पास इकट्ठा हो रहे थे, ये सभी ओबीसी संगठनों के कार्यकर्ता बताए जा रहे हैं। पुलिस ने इनसे हटने के लिए कहा लेकिन ऐसा न होने पर इन्हें हिरासत में लेकर बसों से दूसरी जगह भेजा जा रहा है. ओबीसी संगठन 27% आरक्षण की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं, ये लोग नगरीय निकाय एवं पंचायत चुनाव में पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) आरक्षण खत्म करने से नाराज़ हैं।

यह भी पढ़े.. Bank Holidays 2022: जनवरी में 15 दिन बंद रहेंगे बैंक, फटाफट निपटा लें जरूरी काम

इससे पहले ओबीसी महासभा दो जनवरी को एक दिवसीय अधिकार एवं जन महाआंदोलन आयोजित करने का ऐलान किया था। इसमें ओबीसी वर्ग को 51 प्रतिशत आरक्षण पर चर्चा की जानी थी और इसमें भीम आर्मी, जयस, आजाद समाज पार्टी  के शामिल होने वाली थीं। इन संगठनों ने दो जनवरी को मुख्यमंत्री आवास का घेराव करने का भी ऐलान किया हुआ था। ओबीसी महासभा ने जन महाआंदोलन के लिए सूचना पत्र भी जारी किया है। इसमें बताया गया है कि भोपाल में 2 जनवरी को ये आंदोलन प्रस्तावित है।