भीम आर्मी ने साध्वी प्रज्ञा के चेहरे पर कालिख पोतने वाले को 5 लाख देने का किया ऐलान

bhim-army-declares-reward-of-rs-5-lakh-for-anyone-who-attacks-sadhvi-with-black-ink

भोपाल।

भले ही भोपाल प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ने शहीद हेमंत करकरे को दिए गए बयान पर यू-टर्न ले लिया हो लेकिन लोगों मे अब भी साध्वी के प्रति आक्रोश व्याप्त है। एक तरफ मराठी समाज मोर्चा खोले हुए है वही दूसरी तरफ भीम आर्मी ने साध्वी को लेकर बड़ा ऐलान कर दिया है। भीम आर्मी ने साध्वी प्रज्ञा के चेहरे पर कालिख पोतने वाले को इनाम देने की घोषणा की है। इस विरोध और घोषणा के बाद बीजेपी में खलबली मच गई है। चुंकी नेताओं द्वारा लगातार डेमेज कंट्रोल किया जा रहा है बावजूद इसके विरोध के स्वर धीमे नही हो रहे है।

दरअसल, भीम आर्मी ने भोपाल सीट से भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के चेहरे पर कालिख पोतने वाले को 5 लाख का इनाम देने का ऐलान किया। भीम आर्मी का कहना है कि साध्वी प्रज्ञा ने मुंबई के आतंकी हमले में शहीद हुए हेमंत करकरे का अपमान किया है।  भीम आर्मी की तरफ से जगह-जगह पर्चे बांटे जा रहे हैं और इन पर्चों में लिखा गया है कि साध्वी प्रज्ञा ने शहीद हेमंत करकरे का अपमान किया है। साध्वी प्रज्ञा की इस हरकत पर भीम आर्मी चुप नहीं बैठ सकती।इसी के साथ भीम आर्मी ने ऐलान किया है कि जो कोई भी साध्वी को अपने गांव में आने पर रोक लगाएगा और उनके चेहरे पर कालिख पोतेगा उस गांव को पुरस्कार के साथ पांच लाख रुपये का इनाम दिया जाएगा।

आपको बता दें कि  26 नवम्बर 2008 में आतंकियों ने मुम्बई पर हमला कर दिया था, जिसमें एटीएस चीफ हेमंत करकरे भी शहीद हो गए थे। उनको लेकर प्रज्ञा सिंह ने कहा कि करकरे को मेरा श्राप लगा था। सवा महीने बाद आतंकी हमले में करकरे की मौत हो गई थी। हालांकि इसके बाद प्रज्ञा ने अपना बयान वापस लेते हुए उस पर खेद जताया था। इधर, प्रज्ञा ठाकुर को मालेगांव ब्लास्ट मामले में बुधवार को राहत मिल गई है। एनआईए कोर्ट ने उनके लोकसभा चुनाव लड़ने पर रोक लगाने वाली याचिका को खारिज कर दिया।