कांग्रेस के देवाशीष के लिए अतीत घातक, भाजपा की संध्या को मोदी लहर का सहारा

bhin-loksabha-seat-devashish-jarariy-vs-sandhya-rai-

भिंड| गणेश भारद्वाज| मध्य प्रदेश की भिंड लोकसभा सीट पर मुकाबला रोचक हो गया है| यह सीट भाजपा का गढ़ कहलाती है।  अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित भिंड लोकसभा सीट पर भाजपा की महिला वकील व पूर्व विधायक संध्या राय का मुकाबला कांग्रेस के युवा इंजीनियर देवाशीष जरारिया से मुकाबला है। कांग्रेस 30 साल से इस सीट पर जीत को तरस रही है। प्रचार प्रसार में दमखम के साथ भाजपा – कांग्रेस आमने-सामने है, वहीं बसपा मुकाबले की दौड़ से बाहर है| 

8 तारीख को राहुल गांधी आएंगे भिंड

आठ मई को अपराहन 3 बजे नवीन गल्ला मंडी प्रांगण में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की आमसभा होगी| प्रदेश के मुखिया कमलनाथ भी राहुल के साथ रहेंगे | शनिवार को भिंड नगर के निराला रंग बिहार में एक चुनावी सभा को कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया संबोधित करेंगे|  कांग्रेस प्रत्याशी देवाशीष जरारिया के लिए प्रचार करने के लिए देश क्या अब तक प्रदेश का कोई बड़ा लीडर भिंड नहीं पहुंचा है। जबकि पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा जहां भाजपा प्रत्याशी संध्या राय का नामांकन दाखिल कराने के लिए यहां पहुंचे थे वहीं दूसरी ओर गोहद में केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह की आमसभा भी हो चुकी है| देवाशीष जरारिया का नामांकन भरवाने के लिए स्थानीय लहार विधायक और प्रदेश में मंत्री गोविंद सिंह के अलावा कोई भी बड़ा चेहरा मंच पर नहीं दिखाई दिया था| देवाशीष जरारिया को राहुल गांधी के प्रत्याशी के तौर पर देखा जा रहा है। कांग्रेस के दोनों खेमे देवाशीष के लिए काम करने में जुटे हुए हैं लेकिन अंदर खाने से खबर यह है कि सवर्ण लोग देवाशीष से खासे नाराज है, केवल कांग्रेस में काम करने वाले या कांग्रेस की खाटी विचारधारा वाले लोग ही देवाशीष के साथ लगे हुए दिखाई दे रहे हैं या जिनको फोटो खिंचवा कर अपने नंबर बढ़ाने हैं वहीं कांग्रेस प्रत्याशी के साथ नजर आ रहे हैं। कांग्रेस प्रत्याशी का जातीयता को लेकर इतना अधिक विरोध है। गांवों में सवर्ण युवाओं के विरोध का कई जगह  उनको खुद सामना करना पड़ रहा है और बार-बार सफाई देनी पड़ रही है कि मेरा जातीयता से और टुकड़े-टुकड़े गैंग से कोई लेना देना नहीं है। भाजपा का नामांकन दाखिल होने से पहले भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष विनय सहस्त्रबुद्धे कार्यकर्ताओं की बैठक लेने के लिए भिंड पहुंचे थे जहां उन्होंने देवाशीष जरारिया को टुकड़े-टुकड़े गैंग का सदस्य बताया था। जिस पर कांग्रेस प्रत्याशी जरारिया के द्वारा भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष विनय सहस्त्रबुद्धे को एक नोटिस भी जारी किया गया था,  इसके अलावा स्वयं पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी कांग्रेस प्रत्याशी को बिना नाम लिए टुकड़े-टुकड़े गैंग का सदस्य बता चुके हैं।

संध्या भी प्रचार में जुटी 

भाजपा प्रत्याशी संध्या राय प्रचार प्रसार में जुटी हुई है और उनके लिए जहां भाजपा सरकार में कद्दावर मंत्री रहे नरोत्तम मिश्रा पूरी ताकत झोंके हुए हैं | वहीं भिंड जिले से एकमात्र भाजपा विधायक अरविंद भदौरिया भी उनके साथ कदम से कदम मिलाकर चलते हुए दिखाई दे रहे हैं । संध्या राय को कुछ लोग बाहरी प्रत्याशी के रूप में भी देख रहे हैं लेकिन मोदी लहर के चलते उनका भारी होना यहां पर ज्यादा प्रभाव डालता हुआ नहीं दिखाई दे रहा है | हालांकि अभी दो रोज पहले भाजपा के द्वारा कुछ सवर्ण अधिकारियों की शिकायत करने का मामला भी लोगों में गरमाता नजर आ रहा है | जिससे कुछ लोग संध्या राय को भी सवर्ण विरोधी बताने में जुटे हुए हैं | अब भिंड में प्रचार प्रसार के लिए केवल 7 दिन शेष हैं और इन 7 दिनों में दोनों ही पार्टियां अपनी पूरी ताकत झोंकने के लिए तैयार हैं|  जहां 8 अप्रैल को स्वयं कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी यहां पर एक विशाल जनसभा को संबोधित करेंगे वहीं भाजपा भी किसी बड़े राष्ट्रीय नेता को भिंड में लाने की जुगत में है। हालांकि 5 मई को ग्वालियर में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक विशाल सभा को संबोधित करने वाले हैं जिसमें भिंड जिले की प्रत्याशी संध्या राय सहित चंबल अंचल के चारों भाजपा प्रत्याशी मंच पर मौजूद रहेंगे।