भोपाल : दिग्विजय सिंह के आरोप, प्रतिशोध की भावना से बनाए जा रहे आपराधिक प्रकरण

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने रविवार को भोपाल पीसीसी में प्रेस कांफ्रेंस के दौरान जमकर केंद्र और राज्य सरकार पर हमला बोला उन्हों कहा कि जानबूझकर प्रतिशोध की भावना से देश में आपराधिक प्रकरण बनाए जा रहे हैं। कांग्रेस के बड़े नेताओं को निशाना बनाया जा रहा है, मनी लांड्रिंग के तहत केस दर्ज किया है। दिग्विजय सिंह ने कहा कि सोनिया गांधी, राहुल गांधी और हमारे नेतृत्व का इरादा बड़ा स्पष्ट है। इरादा स्पष्ट रूप से यह सुनिश्चित करने का है कि नेशनल हेराल्ड, जो कांग्रेस पार्टी की विरासत का प्रतीक है, उसके मूल्य हमेशा जीवित रहें और हमारे आदशों और सिद्धांतों को व्यक्त करने में नेशनल हेराल्ड हमारी आवाज बना रहे। यह सत्य की लड़ाई है। सत्य की हमेशा विजय हुई है और इस बार भी होगी। राहुल गांधी और कांग्रेस नेतृत्व इस ‘अग्निपरीक्षा’ से और ओजस्वी होकर उभरेंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने नेशनल हेराल्ड की देनदारी चुकाई है, जो 67 करोड़ रुपये से अधिक राशि है। सोनिया गांधी, राहुल गांधी पर दबाव बनाने का प्रयास किया जा रहा है। एक भी पैसा नहीं लिया फिर भी बदनाम किया जा रहा है। राहुल गांधी और अन्य सदस्य कल एआईसीसी में इकट्ठा होंगे।

यह भी पढ़ें…. मध्यप्रदेश : BJP की नगर निगम महापौर प्रत्याशियों की लिस्ट का बेसब्री से इंतजार, आज जारी होने की उम्मीद

व्ही दिग्विजय सिंह ने राज्य सरकार पर भी सवाल खड़े किए उन्होंने कहा कि बुलडोजर संस्कृति चल पड़ी है, जिसने अपराध किया उसे सजा दो, पूरे परिवार को सजा क्यों दी जा रही है। संविधान में इसका कहीं उल्लेख नहीं है। दबाव बनाने की राजनीति की जा रही है, हम डरने वाले नहीं है। हम सरकार के खिलाफ मैदान में उतरेगे, विरोध जताएगे, दिल्ली में प्रदर्शन होगा और उसके बाद मध्यप्रदेश में कांग्रेस विरोध जताएगी। वही मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने दिग्विजय सिंह की प्रेस कांफ्रेस में सरकार पर लगाए आरोपों पर पलटवार करते हुए ट्वीट किया है कि साँच को क्या आँच।