भोपाल : निशांक राठौर की मौत का मामला, एसआईटी करेगी जांच, गृह मंत्री ने दिए निर्देश

प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा का कहना है कि पूरे मामले की जांच के लिए रायसेन पुलिस को एसआईटी गठित करने के निर्देश दिए जा रहे हैं।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट।  रेल्वे ट्रैक पर B.tech छात्र निशांक राठौर का शव मिलने के मामले की जांच एसआईटी करेंगी। गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने इस पूरे मामले को गंभीरता से लेते हुए एसआईटी की जांच के निर्देश दिए है। गौरतलब है कि भोपाल-नर्मदापुरम रेलवे ट्रैक पर रविवार रात B.Tech स्टूडेंट का शव मिलने से सनसनी फैल गई, युवक का शव मिलने से पहले स्टूडेंट की इंस्टाग्राम आईडी से उसके पिता और दोस्तों को वॉट्सऐप पर एक स्क्रीनशॉट मिला, इस स्क्रीनशॉट में छात्र की फोटो थी और फोटो पर लिखा था, गुस्ताख-ए-नबी की एक ही सजा, सिर तन से जुदा…बताया जा रहा है कि घटनास्थल मिडघाट बरखेड़ा के पास छात्र की स्कूटी और मोबाइल भी पुलिस को मिला है।

यह भी पढ़ें….Sarkari Naukari: यहाँ निकली कई पदों पर भर्ती, फ्रेशर्स भी कर सकते हैं आवेदन, बस इस डिग्री की होगी जरूरत

अब इस मामलें की जांच एसआईटी करेंगी, बताया जा रहा है कि मृतक छात्र निशांक सिवनी मालवा निवासी था वह भोपाल के ओरियंटल कॉलेज में B.Tech 5th सेमेस्टर में था निशांक के दोस्तों की माने तो वह शेयर बाजार में निवेश करता था, हालांकि पुलिस को मामले की प्रारम्भिक जांच में यह सुसाइड का मामला ल रहा है आशंका है कि उसे घाटा लगा होगा और तनाव में आ गया होगा। हालांकि, अभी पीएम रिपोर्ट समेत अन्य तथ्यों की जानकारी जुटाने में पुलिस लगी है। बताया जा रहा है कि निशांक रविवार दोपहर तीन बजे भोपाल के साकेत नगर परीक्षा केंद्र में एग्जाम देने आई बड़ी बहन से मिलने निकला था। रविवार रात 8 बजे उसके पिता और दोस्तों के पास उसके मोबाइल से उसका फोटो लगा मैसेज आया। मैसेज पढ़कर सब हैरान रह गए, पिता ने बेटे के दोस्तों को फोन किया। दोस्त राज, चचेरे भाई शशांक ने टीटी नगर थाने पहुंचकर उसकी गुमशुदगी दर्ज कराई। तब तक रायसेन पुलिस उसका शव बरखेड़ा इलाके के रेलवे ट्रैक से बरामद कर चुकी थी। निशांक के पिता उमाशंकर राठौर हरदा में सहकारिता विभाग में पदस्थ हैं। पुलिस ने भोपाल से लेकर घटनास्थल तक सीसीटीवी फुटेज तलाशे,  CCTV कैमरों में निशांक अकेले ही मोटरसाइकिल पर जाता नजर आया। फिलहाल पुलिस मामलें की जांच कर रही है।