भोपाल: भारी पुलिस बल के बीच मासूम का किया गया अंतिम संस्कार, आरोपी पर इनाम घोषित

bhopal-girl-rape-and-murder-case-mp

भोपाल।

उज्जैन के बाद भोपाल रेप- हत्या मामले में अब सियासत गर्मा गई है, कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े होने लगे है। बीजेपी ने सीएम और गृहमंत्री के इस्तीफे की मांग की है।इसी बीच पुलिस ने आरोपियों पर बीस हजार का इनाम घोषित किया है। वही शॉर्ट पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद मासूम का अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान मंत्री पीसी शर्मा ने मासूम के शव को कंधा दिया। मौके पर भारी पुलिस बल तैनात रहा।घटना के बाद से ही लोगों मे आक्रोश है। इधर, भाजपा-कांग्रेस नेता पीड़ित परिवार के घर पहुंचकर परिजन को दोषियों पर कडी से कडी कार्रवाई करने का आश्वसन दे रहे।फिलहाल पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है।

इस मामले में कानून मंत्री पीसी शर्मा ने दोषियों पर कड़ी कार्रवाई करने की बात कही है। साथ ही शर्मा ने कहा कि बच्ची के परिजनों को मुख्यमंत्री सहायता कोष से सहायता राशि दिलाई जाएगी। किसी भी दोषी को बख्शा नही जाएगा।मामला फास्ट ट्रैक कोर्ट में चलाया जाएगा और आरोपियों को कड़ी से कडी सजा दिलवाई जाएगी। दोषी पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई की जाएगी। डीआईजी को मामले में जांच के निर्देश दिए गए हैं।

वही कानून व्यवस्था पर उठ रहे सवालों के बाद मामले को गंभीरता से लेते हुए प्रदेश के गृहमंत्री बाला बच्चन ने कहा कि छह पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया है और कहा है कि मामले से संबंधित सभी साक्ष्य जुटा लिए गए हैं। आरोपी अभी फरार हैं, बहुत जल्द आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। विष्णु नाम के एक संदिग्ध आरोपी की पहचान की गई है। वह पीड़ित परिवार के घर के पास ही रहता है। उसके परिवार के सदस्यों को हिरासत में लिया गया। पुलिस को आरोपी की लोकेशन पता चली है। उसकी गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि आरोपी शायद कुछ दिन पहले ही यहां मजदूरी करने आया था। मंडवा बस्ती की मदद से आरोपी को चिंहित कर लिया गया है। जल्दी ही आरोपी को गिरफ्तार कर कडी से कडी कार्रवाई की जाएगी ताकि आगे ऐसी घटना न हो सके।- 

आरोपी पर बीस हजार का इनाम

भोपाल आईजी योगेश देशमुख ने आरोपियों को पकड़ने के लिए 20 हजार रुपए के इनाम की घोषण कर दी है। इसके साथ ही संदिग्धों से पूछताछ की जा रही है। मामले की जांच के लिए 20 अलग-अलग टीमें बनाई गई हैं।बच्ची के साथ दुष्कर्म कर हत्या करने वाले की अभी तक गिरफ्तारी नहीं हुई है।  आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए एक टीम खंडवा रवाना की गई है।