गुजरात ‘लट्ठा कांड’ में पैरोल से भागा बदमाश करता था ट्रेनों में चोरी, भोपाल जीआरपी ने दबोचा

bhopal-grp-police-arrested-accused-of-gujrat-lattha-kand-

भोपाल। जीआरपी भोपाल ने पेरोल से फरार हुए एक शातिर चोर को दबोचा है। बदमाश ट्रोनों के एसी कोच में सिर के नीचे बैग रख सो रही महिला का बैग चोरी करने का काम करता था। पूछताछ में आरोपी ने सात वारदातों का खुलासा किया है। जिसके कब्जे से लाखों रूपए का माल बरामद किया गया है। अन्य अपराधों के संबंध में आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। पुलिस के अनुसार योगेंद्र उर्फ दददू उर्फ छारा पिता किशोर सिंह सिसोदिया निवासी इंदौर पुराना चोर है। आरोापी स्टेशन और ट्रेनों से यात्रियों का सामान चोरी करने का काम करता है। विभिन्न वारदातों में उसके फुटैज स्टेशन पर लगे सीसीटीवी कैमरों में कैद हो चुके हैं। 

आरोपी को बीती आठ फरवरी को स्टेशन पर संदिग्ध हालातों में घूमते दबोचा गया था। योगेंद्र के खिलाफ विभिन्न प्रदेशों में चोरी, नकबजनी के प्रकरण दर्ज हैं। बीते दिनों वह साबरमती केंद्रीय जेल अहमदाबाद गुजरात से लट्ठा कांड में पैरोल पर छूटा था। जिसके बाद से आरोपी फरार हो गया था। गुजरात पुलिस को उसकी तलाश है। पूछताछ में आरोपी ने स्वीकार किया है कि वह अहमदाबाद में देशी शराब बेचने का कारोबार भी करता था। जीआरपी को आरोपी योगेंद्र ने बताया है कि वो अहमदाबाद में देशी शराब बनाकर बेचने का धंधा करता था। साल 2009 में शराब में कैमिकल की मात्रा ज्यादा हो जाने से वह जहरीली हो गई। इस शराब को पीने से 23 लोगों की मौत हो गई। इस मामले में उसके खिलाफ अहमदाबाद के कडियापीठ थाने में मामला दर्ज हुआ था। गिरफ्तारी के बाद वो 9 साल तक साबरमती सेंट्रल जेल में अपने साथियों के साथ कैद में रहा।

ऐसे देता था वारदात को अंजाम 

चोरी के आरोपी योगेंद्र ने बताया है कि वह हमेशा एसी कोच में ही वारदात को अंजाम देता था। इसके लिए वो वकायदा एसी का टिकट बुक कराता था। सफर के दौरान जो महिला यात्री सिर के नीचे हैंड बेग चोरी कर लेता था। नगदी और आभूषणों के अलावा उसकी नजर एटीएम कार्ड पर होती थी। चोरी के दौरान बैग में मिले मोबाइल को वह पूरा सर्च करता था और एटीएम का पिन सर्च करता था। एगर पिन मिल गया तो आरोपी एटीएम से रुपए भी निकल लेता था। 

– तीन किलो गांजे के साथ युवक गिरफ्तार

जीआरपी ने मुबिर की सूचना पर इटारसी स्टेशन से दो दिन पहले सुमन्ता प्रधान पिता रामचंद्र प्रधान (27) को तीन किलो गांजे के साथ में गिरफ्तार किया है। आरोपी ट्रेन से गांजा लाकर आर्डर पर भोपाल व आस पास के क्षेत्रों में खपाने का काम करता था। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है।