जीएसटी की आतिशबाजी के बाद फिर पटरी पर लौटा पटाखा बाजार

पटाखा बाजार में इस बार आए तरह तरह के फटाखे

भोपाल,रवि नाथानी। विगत दिनों भोपाल (Bhopal news) के थोक पटाखा बाजार में लगभग आधा दर्जन दुकानों पर जीएटी विभाग के अधिकारियों ने सर्वे की कार्रवाही की थी, जिससे मार्केट में हडक़ंप मचा हुआ था। कार्रवाही लगभग दो दिनों तक चली। कार्रवाही के बाद रविवार और सोमवार से एक बार फिर व्यापारी अपने व्यपापार को पटरी पर लाने में जुट गए है। इस बार बाजार में तरह तरह के फटाखे आए है,जिन्हे खरीदने के लिए लोग बाजार की तरफ रूख कर रहे है।

यह भी पढ़े…यहां पढ़िए 17 अक्टूबर की मध्य प्रदेश की सभी बड़ी खबरें, केवल एक क्लिक पर

बता दें कि पटाखा बाजार में इस बार ग्राहक बस आसमानी आतिशबाजी लेना पसंद कर रहे है। जिसकी मांग बढ़ गई है। आतिशबाजी कारोबारियों ने बताया कि बेमौसम हुई बारिश और महंगाई के कारण ग्राहकी कम है अभी तक जो आतिशबाजी लेने की स्पीढ बढ़ जाती है वो नजर नहीं आ रही है। ग्राहकी का मूवमेंट जो है वो कम है आवाज वाले बमों पर प्रतिबंध लगने से आसमानी आतिशबाजी ही लेना लोग पसंद कर रहे है इसकी डिमांड भी ज्यादा है। इन दिनों में टी-२० क्रिकेट वल्र्डकप शुरू हो गया है। ऐसे में इसकी को देखते हुए ही आसमानी शार के रूप में 5 खिलाड़ी नाम से आई आतिशबाजी की मांग ज्यादा है। जो आसमान से अलग अलग रंग बिखरेंगे इसके अलावा आसमानी झरने वाले बड़े अनार, रोलर, क्रेकर्स अनार, यूजिकल अनार, फोटो लेश, मल्टीकलर, रंगारंग अनार के अलावा 40 शार्ट से लेकर 500 शार्ट तक आसमानी आतिशबाजी हो सकेगी। कारोबारी विभिन्न प्रकार की आतिशबाजी उपलब्ध करा रहे है। जो 125 डैसीमल से कम आवाज की है। दीपावली पर इस बार जमीन पर कम आसमान पर खासी रौनक रहने वाली है।

जीएसटी के बाद पटरी पर गाड़ी
भोपाल के इस फटाखा बाजार में जीएसटी विभाग की कार्रवाही के बाद यहां हडक़ंप मचा हुआ था,कुछ दिन पहले ही यह कार्रवाही खत्म हुई। इसके बाद रविवार से बाजार गुलजार रहे। यहां पटाखा खरीदी करने वालों की भीड़ देखने को मिली। वहीं क्रिकेटर्स से जुड़े पटखे लोगों ने ज्यादा खरीदे आने वाले दिनों में भी ग्राहाकी जोरों पर होने की उम्मीद जताई जा रही है।

यह भी पढ़े…Motorola का सस्ता और स्टाइलिश स्मार्टफोन भारत में लॉन्च, जानें कीमत और फीचर्स

मंहगाई की मार
इस पर पटाखा बाजार में मंहगाई की मार भी देखने को मिली है। इस बार 30 से 40 प्रतिशत बढ़ गए आतिशबाजी के दाम रंगारंग आतिशबाजी के पर्व पर भी महंगाई का असर देखने को मिल रहा है।

आतिशबाजी कारोबारी धर्मेन्द्र सभनानी ने कहा कि बेमौसम हुई बारिश और महंगाई के कारण आतिशबाजी 30 से 40 प्रतिशत महंगी आ रही है। रद्दी, कागज, केमिकल, पेट्रोल, डीजल, ट्रासपोर्टेशन सभी के दाम बढऩे से आतिशबाजी के दाम बढ़ गए है। बेमौसम बारिश से भी ग्राहकी प्रभावित हुई है तेज आवाज के बम की डिमांड अब नहीं है।

थोक विक्रेता पटाखा बाजार सोनू मुलानी ने कहा कि ग्रीन पटाखो की मांग ज्यादा है केवल आसमानी आतिशबाजी ही लोग लेना पसंद कर रहे है। बड़ी बड़ी लड़े भी हुई बंद दीपावली पर बड़ी बड़ी जो लड़े जलाई जाती थी वो भी अब भी बंद हो गई है100 से लेकर 10 हजार तक की जो लड़ जलाई जाती थी वो अब उपलब्ध है,अब छोटी मोटी 50 से 100 बम की स्टैप ही उपलब्ध है।