ट्रांसफॉर्मर की चपेट में आया मासूम, गंभीर रूप से हुआ घायल

Bhopal News : मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से एक बड़ी खबर आ रही है जहाँ बिजली कंपनी की लापरवाही संतनगर में एक मासूम पर भारी पड़ गई। खुली डीपी की चपेट में आने से वह गंभीर रूप से जख्मी हो गया। सिविल अस्पताल में इलाज न मिलने पर एक निजी अस्पताल में भर्ती किया गया, लेकिन गंभीर स्थिति होने पर भैंसाखेड़ी स्थित एक बड़े प्राइवेट अस्पताल ले जाया गया।

यह है मामला

बता दें कि गुरूवार दोपहर में संतनगर के बेहटा गांव में बच्चे खेल रहे थे। तभी सात वर्षीय राज मांझी मासूम को खुली डीपी से करंट लगा। घटना दोपहर दो-ढाई बजे की बताई जा रही है, लेकिन बच्चे को सिविल अस्पताल ले जाया गया, जहां से हमीदिया चिकित्सालय रेफर कर दिया गया। हालांकि परिजन बच्चे को राजदीप हॉस्पिटल ले गए। जिस वक्त हादसा हुआ उस समय बच्चे के माता-पिता काम पर गए थे। उनका कहना है कि डीपी खुले होने के लिए बिजली कंपनी जिम्मेदार है, बहुत से बच्चे वहां खेलते रहते हैं, उनका बच्चा नहीं तो कोई और बच्चा चपेट में आता।

ट्रांसफॉर्मर की चपेट में आया मासूम, गंभीर रूप से हुआ घायल

हादसे की खबर मिलने के बाद पार्षद अशोक मारन और भाजपा नेता राहुल राजपूत सहित अस्पताल पहुंचे थे और इलाज के लिए जिला प्रशासन के अधिकारियों से बात की। हादसे के लिए बिजली कंपनी को जिम्मेदार ठहराया और कार्रवाई की मांग की।

बड़ा हादसा टला

बैरागढ़ में जिस स्थान पर यह डी.पी लगी है वहां पर वायरों की फैंसिंग तक नहीं की गई है आए दिन यहां पर मवेशी घुमते रहते है। गुरूवार को भी जिस समय यह घटना हुई उस दौरान मासूम राज के साथ और भी कई बच्चे वहां पर खेल रहे थे,जो घबराए हुए है। जैसे ही राज उस डी.पी की चपेट में आया वहां चीख पुकार मच गई और आसपास के लोगों ने लकड़ी के ठंडे से राज की जान बचाई। इधर चिकित्सकों का कहना है कि राज की किडनी की तरफ से झुलसा है, प्रारंभिक इलाज में थोड़ा बहुत आसार लग रहा है,व हीं मासूम के एक हाथ में भी गंभीर चोटे आई है।
भोपाल से रवि नाथानी की रिपोर्ट