जनता के बीच समस्या जानने पहुंचे CS, अधिकारियों को दिए कड़े निर्देश, तय की काम की डेडलाइन

bhopal-news-MP

भोपाल।

प्रदेश के मुख्य सचिव एसआर मोहंती शनिवार को प्रशासनिक अफसरों के साथ लोगों की समस्या जानने भोपाल के आसपास के गांव पहुंचे हैं।यहां उन्होंने लोगों की समस्याएं सुनी और जल्द से जल्द निराकरण करने के निर्देश दिए ।साथ ही उन्होंने ग्रामीणों को वृक्षारापेण के लिए प्रेरित किया। लगभग ढाई हजार आबादी वाले इस ग्राम के नागरिकों ने 5000 पौधे लगाने का संकल्प व्यक्त किया है ।इस मौके पर उनके साथ  भोपाल कमिश्नर  कल्पना श्रीवास्तव, कलेक्टर  तरूण कुमार पिथोड़े सहित अन्य अधिकारी, सरपंच सहित आमजन उपस्थित थे। 

गांव वालों द्वारा  पानी आदि की समस्या बताने पर सीएस ने अफसरों को निर्देश दिए कि गांव से गुजरी हलाली नदी के पानी को लिफ्ट एरिगेशन से बरखेड़ी अब्दुल्ला, भदभदा, बरखेड़ी, ऊधमपुरी में पहुंचाया जाए, इससे करीब 2200 एकड़ जमीन की सिंचाई हो सकेगी। उन्होंने एक साल में काम पूरा करने की डेडलाइन तय की। दो सप्ताह में पीने के पानी के लिए हैंडपंप लगाने की डेडलाइन तय की, इसी तरह अगले एक साल में यहां पर बने मिडिल स्कूल को हायर सेकंडरी स्कूल में तब्दील कर दिया जाएगा। सीएस ने हलाली नदी के स्पॉट को देखा, जहां बिजली का सब स्टेशन बनाकर पानी को लिफ्ट किया जाएगा।  

 मुख्य सचिव ने ग्रामीणों को बताया कि मध्यप्रदेश शासन द्वारा 12 करोड़ रूपये लागत की लिफ्ट ईरीगेशन योजना के माध्यम से क्षेत्र के किसानों को सिंचाई के लिये पर्याप्त जल उपलब्धता एक वर्ष के भीतर सुनिश्चित की जाएगी। इसके माध्यम से बरखेड़ी अब्दुल्लागंज सहित चार गांवों की लगभग 900 हेक्टेयर भूमि सिंचिंत हो जाएगी। मुख्य सचिव मोहंती ने रामकली गौ संरक्षण केन्द्र गौशाला का अवलोकन भी किया ताकि शासन की मंशानुरूप प्रदेश में आदर्श गौशालाएं स्थापित की जा सकें ।  एक महिला द्वारा पेयजल की समस्या बताने पर हेण्डपंप उत्खनन के निर्देश दिए।