Bhopal News : दो दुकानों को चोरों ने बनाया निशाना, हजारों का सामान चोरी

Bhopal Crime News : मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के व्यापारी नगर बैरागढ़ स्थित नेहरू मार्केट की दो दुकानों को चोरों ने अपना निशाना बनाया। चोर यहां से हजारों रुपए नगद ले गए हैं। मिली जानकारी के अनुसार बैरागढ़ के नेहरू मार्केट स्थित पंकज साड़ी और रिद्धि साड़ी पर देर रात करीबन 3 से 4 बजे के बीच में चोरों ने पहले दुकान की रेकी की इसके बाद शटर को टेढ़ा कर दुकान के अंदर दाखिल हुए। चोरों ने यहां पर केश बॉक्स में रखें लगभग ₹25000 चुरा लिए है। दुकान मालिक नीलकंठ वाधवानी और रोहित खिलरानी ने बताया की मंगलवार को अपने समय से उन्होंने दुकाने बंद करें, घर चले गए थे। सुबह करीबन 8 बजे लोगों ने उनके दुकान में चोरी होने की सूचना फोन पर दी। सूचना मिलते ही दुकान मालिक मौके पर पहुंच गए और पुलिस को इसकी जानकारी दी। पुलिस ने प्रारंभिक जांच शुरू कर दी है।

नहीं लगा लूट का सुराग

किसी समय में शांति का टापू कहां जाने वाला बैरागढ़ अब अपराधियों की शरण स्थली बनता जा रहा है विगत दिनों हुई एक कलेक्शन एजेंट के साथ हुई लूट का सुराग अभी तक पुलिस को नहीं मिल सका है। बैरागढ़ के रहने वाले कलेक्शन एजेंट के साथ करीबन ₹800000 की लूट हो चुकी है वही इससे पहले बैरागढ़ के पीएनबी बैंक मार्ग पर एक महिला को अपने अपने जाल में फंसा कर 420 सी की घटना को भी अपराधियों ने अंजाम दिया था, इस घटना को ट्रेस भोपाल की क्राइम ब्रांच ने किया था। आए दिन आए दिन हो रही चोरी लूट और 420 ई की घटना से पुलिस की ड्यूटी पर कहीं ना कहीं बड़ा सवाल खड़ा हो रहा है। इधर संत नगर बैरागढ़ में हो रही घटनाओं से व्यापारी चिंतित है और ऐसे मामलों में व्यापारी संगठन पुलिस के आला अधिकारियों से चर्चा करेगा।

कांग्रेस ने लगाया आरोप

संत नगर ब्लॉक कांग्रेस के अध्यक्ष अशोक मारण का कहना है कि बैरागढ़ थाना प्रभारी पूरे दिन अपने कमरे में बैठे रहते हैं और संत नगर में अपराधिक घटनाओं पर लगाम नहीं लगा पा रहे हैं आने वाले दिनों में अगर घटनाओं को रोका नहीं गया तो वह उग्र प्रदर्शन करेंगे और पुलिस के आला अधिकारियों से इसकी शिकायत करेंगे।
भोपाल से रवि कुमार की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News