कीचड भरी सड़क से नहीं पहुंचा वाहन, शव को कंधे पर लेकर अस्पताल आई पुलिस

bhopal-Police-taking-the-dead-body-on-the-shoulder-reached-to-the-hospital

भोपाल| यूं तो पुलिस की छवि को लेकर अक्सर ही सवाल उठते हैं, लेकिन कई बार ऐसी तसवीरें भी सामने आती है, जिससे पुलिस पर जनता का भरोसा और बढ़ जाता है| मामला राजधानी भोपाल के बैरसिया इलाके का है, जहां  सड़क खराब होने के कारण जब गांव में शव वाहन नहीं पहुंचा तो पुलिस ने मृतक के परिजनों का साथ किया और 3 किलोमीटर तक परिजनों के साथ शव को कंधा देकर उसके स्थान पर पहुंचाया| पुलिस की इस संवेदनशीलता की हर कोई तारीफ कर रहा है| 

बैरसिया थाना क्षेत्र के ढेकपूर निवासी कलीबाई पत्नी जगदीश बिजौरी(35) ने सुबह करीब 10 बजे फांसी लगा ली थी। कला बाई पति जगदीश संतान नही होने से दुखी थी| सूचना मिलने पर थाने के एएसआई गंगाराम शाक्य, मुन्नाीलाल ओझा, श्रीधर चंदेरिया और सिपाही मांगीलाल किसी तरह ढेकपुर टपरा पहुंच गए। वहां शव को फंदे से उतारा गया। लेकिन ढेकपुर टपरा से मुख्य मार्ग तक शव को लाना चुनौती भरा था। क्यूंकि लंबा रास्ता था और कीचड से भरा हुआ| 

पोस्टमार्टम के लिए शव को खटिया पर रखकर मुख्यमार्ग तक ले जाना तय हुआ और फिर परिजनों की मदद से पुलिस ने  शव को खटिया पर रखा| इसके बाद पुलिस खटिया के कंधे का सहारा देकर मुख्य मार्ग तक लाई। इसके बाद वाहन से शव पोस्टमार्टम के लिए बैरसिया अस्पताल पहुंचाया गया। पुलिस मर्ग कायम कर मामले की जांच कर रही है। पुलिस का एक ग्रामीण के शव को ऐसे कंधों पर उठाकर लाने की चर्चा हर जगह हो रही है|