नए साल में कमलनाथ सरकार का पुलिस को बड़ा तोहफा, पूरा किया ये वचन

bhopal-police-will-get-weekly-off

भोपाल। प्रदेश कांग्रेस मीडिया के मुख्य समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने नये वर्ष में पुलिसकर्मियों को साप्ताहिक अवकाश देकर वचन पत्र का एक और वादा पूरा किया है। इस दिशा में राज्य के मध्यप्रदेश के पुलिस महानिदेशक ऋषि कुमार शुक्ला ने मुख्यमंत्री कमलनाथ के निर्देश पर मैदानी पदस्थापना पर कार्यरत सभी पुलिस कर्मचारियों को नव वर्ग के प्रथम दिन पुरस्कार स्वरुप साप्ताह में एक दिन का अवकाश प्रदान करने के निर्देश दिए है। सलूजा ने ट््वीट कर बताया है कि कांग्रेस के वचन पत्र में जो वायदे किए गये है उसका एक-एक कर पालन किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कमान संभालते ही पुलिस महकमे में वीकली ऑफ देने की सिफारिश की थी। जिस पर अमल शुरू हो गया है। सबसे पहले जबलपुर पुलिस में वीकली ऑफ देने की शुरूआत हुई थी। अब राजधानी भोपाल में भी इस पर अमल शुरू होने जा रहा है। भोपाल में साढ़े चार हजार पुलिस कर्मियों के बल में से रोजाना 650 पुलिसकर्मियों को अवकाश देने की तैयारी है। रोजाना इतने पुलिसकर्मियों की पूर्ति के लिए एसएएफ की कंपनी, होमगार्ड और पुलिस ट्रेनिंग सेंटर से फोर्स लगाया जाएगा। 4600 के करीब पुलिस बल: भोपाल में इस समय 42 थाने हैं। पुलिस लाइन मिलाकर करीब जिले में 4600 का पुलिस बल है। इसमें सिपाही से अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक तक के कर्मचारी और अफसर शामिल हैं।

अन्य शहरों में लागू होगी व्यवस्था

शुरूआत में बड़े शहरों में वीकली ऑफ  की प्रक्रिया शुरू होने जा रही है। यदि प्रयोग सफल रहा तो फिर छोटे शहर और देहात के थानों में भी पुलिस को वीकली ऑफ दिए जाएंगे।