नाबालिगों से यौन शोषण मामले में फरार प्यारे मियां जम्मू-कश्मीर में गिरफ्तार

भोपाल| नाबालिग लड़कियों से यौन शोषण मामले में फरार आरोपी प्यारे मियां को जम्मू-कश्मीर में गिरफ्तार कर लिया गया है। मध्यप्रदेश पुलिस वहां रवाना हो चुकी है| एमपी पुलिस ने प्यारे मियां को जम्मू-कश्मीर पुलिस की मदद से गिरफ्तार किया है| प्यारे मियां को लेकर जल्दी ही पुलिस टीम भोपाल लेकर आएगी|

इससे पहले मामले की जांच के लिए SIT का गठन किया है। टीम में 6 थाना प्रभारी, 1 एसपी, 1 एडिशनल एसपी, 1 सीएसपी और 1 डीएसपी शामिल है। SIT में एसपी साउथ साई कृष्णा थोटा के नेतृत्व में एवं एएसपी रजत सकलेचा के पर्यवेक्षण में डीएसपी हिमानी सोनी को मुख्य विवेचक नियुक्त किया है, साथ ही सीएसपी टीटीनगर उमेश तिवारी, टीआई शाहपुरा, टीआई महिला थाना, टीआई टीटीनगर, टीआई रातीबड़, टीआई कोहेफिजा व थाना प्रभारी श्यामला हिल्स को सम्मिलित किया गया है।

बता दें कि रविवार को रातीबड़ पुलिस ने मीडिया हाउस के मालिक प्यारे मियां और उसकी महिला साथी के खिलाफ मामला दर्ज किया था। पुलिस को 5 लड़कियां नशे की हालत में मिली थी। सभी को चाइल्ड लाइन को सौंप दिया गया। काउंसलिंग के बाद पूछताछ में उन्होंने यौन शोषण किए जाने का खुलासा किया था। प्यारे मिया और उसके महिला साथी के खिलाफ आईपीसी की संबंधित धाराओं के तहत 376 (बलात्कार), और यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण (POCSO) अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया जा चुका है।

फ्लैट में बनाया डांस बार, सम्पतियाँ ध्वस्त, रसूखदारों से संपर्क
इधर मामला सामने आने के बाद सरकार ने प्यारे मियां के खिलाफ शिकंजा कस दिया है| आरोपी प्यारे मियां की एक-एक कर सभी अवैध संपत्तियों पर प्रशासन कार्रवाई कर रहा है। अवैध मैरिज हॉल तोड़ने के बाद अब उसके श्यामला हिल्स स्थित फ्लैट और एक अन्य भवन को भी मंगलवार को ध्वस्त कर दिया गया। वीवीआईपी अंसल अपार्टमेंट के फ्लैट में रहने वाले आरोपी प्यारे मियां ने घर में ही डांस बार बना रखा था। वह यहां पर नाबालिग बच्चियों को शराब पिलाकर डांस कराता था और इसके बाद उन्हें चाइल्ड पोर्न वीडियो दिखाकर यौन उत्पीड़न करता था। उसके साथ मध्यप्रदेश के कई रसूखदार लोग इस काम में शामिल होते थे। प्यारे मियां की राज्य स्तरीय पत्रकार की अधिमान्यता निरस्त करने के साथ ही उसे मिली सरकारी सुविधाओं को भी निरस्त कर दिया गया है।