कमिश्नर के निर्देश पर मानव तस्करी का भंडाफोड़..41 बच्चे मुक्त

Big-action-on-the-instructions-of-Bhopal-commissioner-on-the-begging-mp

भोपाल।

मध्यप्रदेश की राजधानी में भोपाल कमिश्नर कमिश्नर कल्पना श्रीवास्तव बाल भिक्षावृति के विरुद्ध अभियान चला रही है।इसी के चलते आज उनके निर्देश पर ह्यूमन ट्रेफिकिंग के मामले में बड़ी कार्यवाई की गई। क्राइम ब्रांच, चाइल्ड लाइन और जिला प्रशासन की टीम ने आज सुबह रेस्क्यु कर 41 मासूम बच्चों को जहांगीराबाद से भीख मांगते हुए बरामद किया है। टीम ने जहाँगीराबाद में एक घर में छापा मार करीबन 10 महिलाएं , पुरूष को गिरफ्तार किया है।बताया जा रहा है कि ये लोग बच्चों से भीख मंगवाने का काम करवाते थे ।खबर तो ये भी है कि वे  बच्चों से ड्रग्स सप्लाय भी करवाते थे। यह मानव तस्करी का बड़ा रैकेट भी हो सकता है। 

यह कार्रवाई जिला प्रशासन, महिला बाल विकास, चाइल्ड लाइन और भोपाल क्राइम ब्रांच ने की है। बच्चों से आधा दर्जन लोग जो खुदको मासूमों का अभिभावक बता रहे भीख मंगवाने का काम करते थे। क्राइम ब्रांच की टीम ने इन सबको भी हिरासत में ले लिया है। एएसपी निश्चल झारिया के अनुसार हिरासत में लिए सभी लोग खुदको हैदराबाद का निवासी बता रहे हैं। सभी से बच्चों के संबंध में तजदीक की जा रही है। बच्चों को फिलहाल बालगृह श्यामला हिल्स में सुरक्षित रखवा दिया गया है।बताया जा रहा है कि हैदराबाद-कानपुर के ट्राइबल एरिया से बच्चो को लेकर तस्करी गिरोह आया था।

मामला ह्यूमन ट्रेफिकिंग से जुड़ा है। जिला प्रशासन की तरफ से मुहिम खुशहाल नॉनिहल के नाम से चलाई जा रही है। छापे के बाद बच्चों को चाइल्ड लाइन अपने कब्जे में लिया है।करीब 41  बच्चों पकड़े गए है, जिन्हें हॉस्टल भेज दिया गया है और अब अब अशोका गार्डन मे कारवाई की जा रही है।बताया जा रहा है कि ये  बच्चे हैदराबाद से लाये गए थे, हालांकि कार्यवाही के दौरान ही मौके पर ही पुलिस और चाइल्ड लाइन के अधिकारियों के बयानों में मतभेद देखा गया।