भोपाल।
मध्यप्रदेश के युवाओं के लिए खुशखबरी है। प्रदेश सरकार युवाओं में कौशल विकास के लिए मेगा स्किल सेंटर खोलने जा रही है।प्रदेश के 14 जिलों में खासकर आदिवासी ब्लाको में मेगा स्किल सेंटर्स खोले जाएंगे। ग्लोबल स्किल पार्क का निर्माण मार्च 2020 तक शुरू किया जाएगा। यह बातें सीएम कमल नाथ मंत्रालय ने गुरुवार को भोपाल में स्थापित होने वाले ग्लोबल स्किल पार्क के निर्माण की प्रगति एवं एशियन डेवलपमेंट बैंक की सहायता से क्रियान्वित स्किल डेवलपमेंट प्रोजेक्ट की समीक्षा के दौरान कही।

नाथ ने कहा कि युवाओं में कौशल विकास हो, यह आज की सबसे बड़ी जरूरत है। इससे हम बेरोजगारी की चुनौती का सामना कर सकेंगे। अधिक से अधिक कौशल विकास केंद्र खोले जाएं और उसमें ऐसे ट्रेड का प्रशिक्षण दिया जाए, जिनमें रोजगार की व्यापक संभावनाएँ हैं।युवाओं में कौशल विकास के लिए प्रदेश के 14 जिले में मेगा स्किल सेंटर स्थापित होंगे। ये सेंटर प्रदेश के आदिवासी ब्लाकों में भी खोले जाएंगे। इसके पहले निर्माण संबंधी सभी प्रक्रियाएं पूरी कर ली जाएं। उन्होंने कहा कि युवाओं में कौशल विकास हो। यह आज की सबसे बड़ी जरूरत है। इससे हम बेरोजगारीकी चुनौती का सामना कर सकेंगे। मार्च 2020 तक सभी सेंटर शुरू करने के निर्देश दिए हैं।

इन जिलों में खोले जाएंगे
खरगौन, इंदौर, गुना, ग्वालियर, सिंगरौली, रीवा, दमोह, सागर, राजगढ़, भोपाल, सिवनी, जबलपुर, शाजापुर एवं उज्जैन में मेगा स्किल सेंटर खोले जाएंगे।