राज्य निर्वाचन आयोग का बड़ा फैसला, 3 साल से गृह ग्राम में पदस्थ पंचायत सचिवों को हटाने के निर्देश

ऐसे में राज्य निर्वाचन आयोग ने शासन से अपेक्षा की है कि ग्राम पंचायत के ऐसे सचिव जो ऐसी ग्राम पंचायत में पदस्थ है जिसमें उनका गृह ग्राम सम्मलित है, अथवा ऐसे ग्राम पंचायत सचिव एक ही ग्राम पंचायत में 3 वर्ष से अधिक समय से पदस्थ है उन्हें किसी अन्य ग्राम पंचायत में स्थानांतरित कर दिया जाए।

पंचायत चुनाव

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट।  पंचायत चुनाव के पहले राज्य निर्वाचन आयोग ने बड़ा फैसला लेते हुए प्रमुख सचिव पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग से कहा है कि वर्षों से पदस्थ ग्राम पंचायतों के अधिकारी और कर्मचारियों का स्थानातरण किया जाए, प्रमुख सचिव को लिखे पत्र में कहा गया है कि स्वतंत्र एवं निष्पक्ष निर्वाचन के लिए ग्राम पंचायत के सचिव को भी स्थानातरण की परिधि में लाया जाएगा। ऐसे में राज्य निर्वाचन आयोग ने शासन से अपेक्षा की है कि ग्राम पंचायत के ऐसे सचिव जो ऐसी ग्राम पंचायत में पदस्थ है जिसमें उनका गृह ग्राम सम्मलित है, अथवा ऐसे ग्राम पंचायत सचिव एक ही ग्राम पंचायत में 3 वर्ष से अधिक समय से पदस्थ है उन्हें किसी अन्य ग्राम पंचायत में स्थानांतरित कर दिया जाए।

राज्य निर्वाचन आयोग का बड़ा फैसला, 3 साल से गृह ग्राम में पदस्थ पंचायत सचिवों को हटाने के निर्देश

अतिक्रमण हटाने गई टीम को धमकी, एक फोन पर सीएम और मंत्री को यही बुलाया लूँगा

राज्य निर्वाचन आयुक्त के अनुमोदन के आधार पर सचिव राज्य निर्वाचन आयोग बीएस जामोद ने इस मामले में कार्यवाही किए जाने के साथ आवेदन पत्र के संबंध में निर्देशो के अनुरूप परीक्षण उपरांत समुचित कार्रवाई करने के निर्देश दिए है।