CMHO ऑफिस से जब्त 21 फाइलों में भारी गड़बड़ी, 6 को नोटिस

Big-files-in-21-files-seized-from-CMHO-office

ग्वालियर। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी यानि CMHO ऑफिस से 28 मई को जब्त 21 फाइलों की जांच रिपोर्ट  ट्रेजरी ऑफिसर ने कलेक्टर को सौंप दी है। जांच में भारी गड़बड़ियां मिलीं हैं । ज8सके आधार पर कलेक्टर ने CMHO सहित 6 अधिकारी कर्मचारियों को नोटिस जारी किये हैं। 

CMHO ऑफिस मोतीमहल में संचालित नेशनल हेल्थ मिशन यानि NHM शाखा ��ें गड़बड़ियों की शिकायत कलेक्टर अनुराग चौधरी को कुछ लोगों ने की थी जिसके बाद कलेक्टर के निर्देश पर अपर कलेक्टर रिन्केश वैश्य ने वहां छापा मार था। श्री वैश्य ने 28 मई को CMHO ऑफिस में छापा मारकर NHM शाखा की 21 फाइलें जब्त की थी। फाइलों में प्रारंभिक तौर पर वित्तीय गड़बड़ियाँ दिखाई दी इसलिए जांच ट्रेजरी ऑफिसर अनिल सक्सेना को सौंपी गई। ट्रेजरी ऑफिसर ने सभी फाइलों की जांच कर कलेक्टर को रिपोर्ट सौंप दी है। जानकारी के अनुसार जांच रिपोर्ट में फाइलों की नोट शीट में कांट छाट सहित नियमों की अनदेखी की बात सामने आई है। जांच में सामने आया कि कई नोट शीट में कांट छांट की गई है , इन्हें भुगतान से पहले सक्षम अधिकारी के पास भी नहीं भेजा । फाइलों पर अप्रूवल डेट तो है लेकिन महीने गायब हैं। जिन कर्मचारियों को मानदेय का भुगतान किया गया उनकी अटेंडेंस ना तो BMO से और ना ही MO से अटेस्ट करवाई। कई फाइलें ऐसी निकली जिनमें अधिकार से ज्यादा भुगतान कर दिया और वो भी बिना सक्षम अधिकारी की अनुमति के। इसके अलावा और भी कई वित्तीय गड़बड़ियां जांच में सामने आई हैं। जांच रिपोर्ट सामने आने के बाद कलेक्टर ने CMHO डॉ  मृदुल सक्सेना, जिला समन्वयक दिनेश पचौरिया, डॉ जी एस गुर्जर, जिला कार्यक्रम प्रबंधक जी बी पालीवाल,जिला लेखा प्रबंधक रीना अवस्थी और लेखा सहायक दीपेन्द्र सिंह तोमर को नोटिस जारी किये है। गौरतलब है कि इसी कार्यालय में अपर कलेक्टर रिन्केश वैश्य ने  16 मई को भी छापा मारा था और 19 फाइलें जब्त की थी उन फाइलों की जांच में भी भारी गड़बड़ियाँ मिली थी। उसमें भी CMHO मृदुल सक्सेना सहित कई लोगों को नोटिस जारी किये हैं।