प्रदेश सरकार का विभागों को बड़ा तोहफा, 20 प्रतिशत खर्च के प्रतिबंध से मुक्त किया

शिवराज सिंह चौहान

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। वित्तीय संकट से जूझ रही सरकार ने विभागों के खर्च पर रोक हटा दी है। कोरोना काल में पहली बार ये रोक हटी है। वित्त विभाग द्वारा 20 प्रतिशत खर्च को प्रतिबंध से मुक्त कर दिया गया है। इसके बाद अब लोकनिर्माण सहित सभी बड़े विभाग अगले तीन माह में खुलकर खर्च कर सकेंगे।

प्रदेश सरकार द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि समस्त पूंजीगत मदों में प्रावधानिक बजट से कटौती की गई बीस प्रतिशत राशि विमुक्त की जाती है। इसके बाद पूंजीगत मदों पर त्रैमासिक व्यय सीमा लागू नहीं होगी। इसका मतलब ये हुआ कि यदि किसी मद ये यदि 100 रूपये का बजट प्रावधान किया गया था तो  20 प्रतिशत कटौती के बाद विभाग को 80 रूपये की राशि का बजट प्राप्त हुआ था। इस 80 रूपये में विभाग को चौथी तिमाही में अधिकतम आवंटित बजट का 30 प्रतिशत यानी 24 रूपये खर्च करने की पात्रता था। अब इस 30 प्रतिशत राशि की कटौती को मुक्त करने के बाद विभाग के पास 100 रूपये में से चौथी तिमाही में खर्च करने की अधिकतम सीमा 24 में 20 जोड़कर 44 रूपये हो जाएगी। इस आदेश का लाभ पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग, नगरीय विकास एवं आवास, स्कूल शिक्षा सहित अन्य कई विभागों को मिलेगा।

प्रदेश सरकार का विभागों को बड़ा तोहफा, 20 प्रतिशत खर्च के प्रतिबंध से मुक्त किया

प्रदेश सरकार का विभागों को बड़ा तोहफा, 20 प्रतिशत खर्च के प्रतिबंध से मुक्त किया

प्रदेश सरकार का विभागों को बड़ा तोहफा, 20 प्रतिशत खर्च के प्रतिबंध से मुक्त किया

प्रदेश सरकार का विभागों को बड़ा तोहफा, 20 प्रतिशत खर्च के प्रतिबंध से मुक्त किया