बड़ी राहत: अब मप्र में एक क्लिक में मिलेगी यह जानकारी, QR कोड से भी ले सकेंगे मदद

मप्र

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना संकटकाल (Corona Crisis) में मप्र (MP) की जनता के लिए बड़ी राहत की खबर है।अब आमजन को एक क्लिक पर निजी और सरकारी अस्पतालों (Private Hospital AND Government Hospital) में ‘कितने बेड खाली है’ इसकी जानकारी NHM द्वारा तैयार की गई वेबसाइट www.sarthak.nhmmp.gov.in/covid/facility-bed-occupancy/ पर मिलेगी।मप्र के लोगों को यह जानकारी क्यू.आर. कोड (QR Code) को स्केन कर भी प्राप्त की जा सकती है।

यह भी पढ़े.. सीएम शिवराज सिंह बोले- क्राइसेस मैनेजमेंट ग्रुप और प्रशासन लेंगे कोरोना कर्फ्यू का फैसला

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने कहा कि मप्र में कोरोना नियंत्रण के लिये सभी माकूल व्यवस्थाएँ सुनिश्चित की जा रही हैं। इन व्यवस्थाओं की जानकारी आमजन तक पहुँचाने के लिये विभिन्न संचार माध्यमों का उपयोग किया जा रहा है। इस साइट पर प्रत्येक जिले के निजी और सरकारी अस्पतालों में खाली बिस्तरों की संख्या, आइसोलेशन बेड्स, ऑक्सीजन सपोर्टेड बेड्स और आईसीयू एवं एचडीयू बेड्स की जानकारी उपलब्ध रहेगी।

मुख्यमंत्री शिवराजने कहा कि कोरोना संक्रमण को रोकने के लिये ‘मेरी सुरक्षा-मेरा मास्क”, ‘किल-कोरोना-2” अभियान की गतिविधियाँ संचालित की जा रही हैं। उन्होंने प्रदेशवासियों से अपील की है कि कोविड-19 से जुड़ी अफवाहों से सावधान रहें, अफवाहों पर विश्वास न करें और न ही अफवाह फैलाएँ।कोरोना उपचार एवं व्यवस्थाओं को लेकर प्रतिदिन जिलेवार समीक्षा की जा रही है। प्रत्येक जिले में क्रायसिस मैनेजमेंट ग्रुप और समाज के प्रतिनिधियों से संवाद कर व्यवस्थाएँ बनाने का काम किया जा रहा है। सभी जिलों में आवश्यकतानुसार दवाओं, ऑक्सीजन और रेमडेसिविर इंजेक्शन की पूर्ति की जा रही है।

यह भी पढ़े.. MP Weather Alert: मप्र के इन जिलों में बारिश के आसार, बिजली चमकने की भी संभावना

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि कोरोना वॉलेंटियर्स के साथ आम नागरिक भी कोरोना नियंत्रण में अपनी सहभागिता सुनिश्चित करें। कोरोना गाइड-लाइन का पालन करते हुए दो गज की दूरी बनाये रखें, चेहरे पर मास्क जरूर लगायें, फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करें और सार्वजनिक जगहों पर जाने से बचें। इन सावधानियों से कोरोना संक्रमण पर काफी हद तक नियंत्रण पाया जा सकता है।  आगामी 14 अप्रैल तक चलने वाले टीका (Vaccination) उत्सव में लक्षित समूह के नागरिक स्व-प्रेरणा से वैक्सीनेशन करवायें।