किसानों को सौगात, प्रमुख फसलों के मॉडल भाव में बढ़ोतरी

big-relief-to-farmers--Increase-in-model-prices-of-major-crops-

भोपाल| मध्य प्रदेश में किसानों को एक और सौगात मिली है| सरकार ने धान, ज्वार, बाजरा, मक्का, गेहूं, चना, तुअर आदि प्रमुख फसलों के मॉडल भाव में बढ़ोतरी की है। सबसे ज्यादा बढ़ोतरी तिल में 3336 रुपए और लहसुन में 2832 रुपए दर्ज की गई है। वहीं इस साल बाजरा की कीमत  934 रुपए और मक्का की  831 रुपए (प्रति क्विंटल) ज्यादा तय की गई है। 

सरकार द्वारा 29 अप्रैल 2018 को मॉडल भाव जारी किए गए थे। इस साल ये 29 अप्रैल 2019 को जारी किए गए हैं। लगातार गिरते फसलों के भाव के चलते सरकार ने किसानों को यह राहत दी है| फसलों के भाव बढ़ने से किसानों की कर्जमाफी के बाद कर्जमुक्ति की राह आसान होगी। आलू और प्याज के भाव के मॉडल भाव में कमी आई है। आलू की पिछले साल कीमत 1000 रुपए थी, जो इस साल घटकर 691 रुपए रह गई है। प्याज की कीमत पिछले साल 552 रुपए थी जो इस साल घटकर 452 रुपए रह गई है।  

कांग्रेस की मीडिया विभाग की अध्यक्ष शोभा ओझा का दावा है कि पिछली भाजपा सरकार के कार्यकाल में प्रमुख जिंसों का समर्थन मूल्य का भुगतान नहीं किया गया। प्रदेश की कमलनाथ सरकार ने पिछले साल की तुलना में इस साल प्रमुख फसलों के बढ़े हुए माॅडल भाव पर खरीदी कर रही है। इससे किसानों को कर्जमाफी के बाद पूरी तरह से कर्जमुक्ति मिल सकेगी।

   

जिंस  

 2018     2019    बढ़ोतरी
 
धान     1450     1650     200
 
ज्वार    1226     1748     522
 
बाजरा     1020     1954     934
 
मक्का     1086     1917     831
 
गेहूं     1731     1859     128
 
चना     3600     3963     363
 
तुअर     3676     4500     824
 
उड़द     2946     3654     708
 
मसूर     3513     3760     247
 
सोयाबीन      3378     3604     226
 
सरसों     3335     3454     119  
 
तिल     6657     9993     3336
 
कपास     4507     5858     1341
 
लहसुन     803     3635     2832
 
टमाटर     525     1380     855