अतिथि विद्वानों को बड़ी राहत- सरकार ने जारी किया मानदेय

Kamalnath-government-officials-can-meet-the-promises

भोपाल।
लॉक डाउन (lock down) के बीच प्रदेश की शिवराज सरकार(shivraj sarkar) ने अतिथि विद्वानों(guest-scholars) को बड़ी राहत दी है। उच्च शिक्षा विभाग(Higher Education Department) ने प्रदेश के सरकारी कॉलेजों में कार्यरत अतिथि विद्वानों के लिए दो माह का मानदेय आवंटित (budget-allocated) कर दिया है। मानदेय ना मिलने के चलते अतिथि विद्वानों में आक्रोश बढ रहा था। सोशल मीडिया(social media) पर लगातार वे इसकी मांग उठा रहे थे।लेकिन अब सरकार के इस फैसले से अतिथि विद्वानों मे खुशी की लहर दौड़ गई है।।

दरअसल उच्च शिक्षा विभाग के सरकारी कॉलेजों में कार्यरत अतिथि विद्वानों को फरवरी और मार्च का मानदेय नहीं मिल सका था।जिसके चलते वे फेसबुक एवं ट्विटर पर काली पट्टी, काला मास्क, काला गमछा लगी फोटो लगाकर सांकेतिक विरोध कर रहे थे।15 करोड़ दस लाख आवंटित विभाग ने दो माह के मानदेय में सूबे के 467 कॉलेजों में कार्यरत दो हजार 517 अतिथि विद्वानों के लिए 15 करोड़ दस लाख रुपए का बजट आवंटित किया है।प्राचार्यों ने उनके बिल निकालकर राशि आवंटित करना शुरू कर दिया है। हर महीने के तीस-तीस हजार रुपए के हिसाब से मानदेय का भुगतान करेंगेअब जल्द ही सरकारी कॉलेज इन अतिथि विद्वानों के खाते में इनके मानदेय की राशि ऑनलाइन स्थानांतरित कर देंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here