लॉकडाउन के बीच अभिभावको को बड़ी राहत,शिक्षा विभाग ने जारी किए ये आदेश

भोपाल।
मध्यप्रदेश में स्कूल शिक्षा विभाग ने अभिभावकों को बड़ी राहत दी है। विभाग ने निर्देश जारी करते हुए कहा है कि कोई भी स्कूल चाहे सीबीएसई (CBSE), आईसीएसई (ICSE), यह एमपी बोर्ड (MP Board) से संबंधित शिक्षा संस्थान अभिभावकों पर किसी भी प्रकार से फीस के लिए दबाव नहीं बनाएगी।

दरअसल, लॉकडाउन के चलते स्कूल पूरी तरह से बंद है, कामकाज ठप्प पड़ा है, बावजूद इसके स्कूल प्रबंधन बच्चों पर फीस का दवाब बना रहे है। इसको लेकर प्रदेश के पालक महासंघ ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र भी लिखा था। जिसमें उन्होंने मांग की थी कि लॉकडाउन के चलते बच्चे स्कूल नहीं जा रहे इसलिए निजी स्कूलों को फीस माफ करने को कहा जाए।

इस मांग को गंभीरता से लेते हुए स्कूल शिक्षा विभाग ने आदेश जारी किया है कि कोई भी स्कूल चाहे सीबीएसई (CBSE), आईसीएसई (ICSE), यह एमपी बोर्ड (MP Board) से संबंधित शिक्षा संस्थान अभिभावकों पर किसी भी प्रकार से फीस के लिए दबाव नहीं बनाएगी। विभाग ने कहा कि लॉकडाउन के चलते कोई भी बच्चा स्कूल नहीं जा रहा है इसलिए सभी अभिभावकों को 30 अप्रैल तक फीस जमा करने का समय दिया जाएगा तथा फीस को लेकर निजी स्कूल अभिभावकों पर किसी भी प्रकार का दबाव या लेट फीस नहीं लगा सकते हैं।

बता दें कि इस मामले को लेकर केंद्र सरकार ने भी आदेश जारी किया किया था उन्होंने कहा कि अभिभावकों की लगातार शिकायतें आ रही हैं की प्राइवेट स्कूल उनके ऊपर फीस जमा करने का दबाव बना रही है जबकि लॉकडाउन के चलते सभी स्कूलों में 14 अप्रैल तक छुट्टी घोषित की गई है।