किसानों को बड़ी राहत, कृषि मंत्री की दो टूक- अधिकारियों का करें निलंबन

कृषि मंत्री पटेल ने बताया कि अधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि नकली दवाई और खाद, बीज का व्यापार करने वाले लोगों के विरुद्ध नियमानुसार सख्त कार्यवाही सुनिश्चित करें।

Cabinet Meeting

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल ने किसानों को बड़ी राहत दी है। कृषि मंत्री ने निर्देश दिए है कि कंपनियों के विरुद्ध एफआईआर (FIR) और अधिकारियों का निलंबन (suspension) करें। वही कृषि मंत्री के निर्देश पर इंदौर की संभागीय टीम ने भी छापामार कार्यवाही की है।

यह भी पढ़े.. Unlock के बाद मध्य प्रदेश में 12 हजार एक्टिव केस, ग्रीन जोन में 32 जिले, CM ने दिए ये निर्देश

कृषि मंत्री कमल पटेल के निर्देश पर कृषि विभाग की इंदौर संभागीय टीम ने खण्डवा में नकली खाद, बीज और दवाई विक्रेताओं पर छापामार कार्यवाही की। मंत्री  पटेल ने किसानों के साथ धोखाधड़ी करने वाली कम्पनियों के विरुद्ध एफआरआई करने के निर्देश दिये हैं। साथ ही नकली खाद, बीज और दवाई के गोरख धंधे में सम्मिलित अधिकारियों के विरुद्ध भी निलंबन की कार्यवाही करने के निर्देश दिये हैं।

कृषि मंत्री पटेल ने बताया है कि नकली खाद, बीज और दवाई के कारोबारियों को पकड़ने और किसानों को धोखाधड़ी से बचाने के लिये जिला, संभाग और प्रदेश स्तर पर विशेष टॉस्क फोर्स बनाया जायेगा।  खण्डवा में बालाजी सीड्स, प्रगति एग्रो सीड्स और उत्तम सीड्स द्वारा नकली बीजों की टेगिंग किये जाने की सूचना मिली थी। सूचना पर इंदौर संभागीय कार्यालय की टीम को खण्डवा भेजकर छापामार कार्यवाही की गई।

यह भी पढ़े.. NMDC Government job 2021: इन पदों पर निकली है सरकारी भर्ती, सैलरी 90 हजार

कृषि मंत्री पटेल ने बताया कि अधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि नकली दवाई और खाद, बीज का व्यापार करने वाले लोगों के विरुद्ध नियमानुसार सख्त कार्यवाही सुनिश्चित करें। उन्होंने नकली बीजों के व्यापार में लिप्त व्यापारियों और कारोबारियों को सहयोग करने में उप संचालक कृषि, बीज प्रमाणीकरण अधिकारी इत्यादि की संलिप्तता पाई जाने पर निलंबन की कार्यवाही करने के निर्देश दिये हैं।