CM की चिट्ठी पर सवाल, झा ने कहा-‘नासमझी की एवरेस्ट की चोटी पर चढ़ गए कमलनाथ, इस्तीफा दें’

bjp-attack-on-cm-letter-to-congress-members-on-govt-employees-

भोपाल| मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कांग्रेस प्रत्याशियों और जिला अध्यक्षों को पत्र लिखने पर सियासत गरमा गई है| सीएम ने कांग्रेस नेताओं से पत्र लिखकर कहा है कि जिन अधिकारियों ने चुनाव में निष्पक्षता नहीं रखी हो या लापरवाही की हो उनके नाम, पद और विभाग की जानकारी प्रमाण सहित भोपाल पीसीसी में भेजें| इस पर भाजपा ने आपत्ति जताई है| बीजेपी के राष्ट्र��य उपाध्यक्ष प्रभात झा ने आरोप लगाया है कि मुख्यमंत्री ने कर्मचारियों और अधिकारियों को डराने के लिए पत्र लिखा है, कमलनाथ मुख्यमंत्री के पद पर रहने लायक नहीं है, उन्हें इस्तीफा दे देना चाहिए| 

बीजेपी नेता प्रभात झा ने कहा ऐसा लग रहा है जैसे चुनाव निष्पक्ष होते नहीं हो, कमलनाथ कर्मचारियों और अधिकारियों को डराने का काम कर रहे हैं, अधिकारी कर्मचारियों की निष्पक्षता कांग्रेस नेता कैसे तय कर सकते हैं, क्या कांग्रेस दफ्तर चुनाव आयोग हो गया, क्या सीएम कमलनाथ चुनाव अधिकारी हो गए| यह आश्चर्यजनक है, ये कैसा मजाक है, सीएम कमलनाथ पद पर रहने लायक नहीं है इसलिए इस्तीफा दे| उन्होंने कहा कांगेस कार्यालय चुनाव कार्यालय नहीं है, सीएम चुनाव आयुक्त नहीं है| बीजेपी नेता ने कहा कमलनाथ मुख्यमंत्री के पद पर रहने लायक नहीं है,  हार के डर इस तरह की धमकी दी है इसलिए तत्काल इस्तीफा दे| कमलनाथ नासमझी की एवरेस्ट की चोटी पर चढ़ गए है यह लाखों अधिकारी कर्मचारियों का अपमान है| 

गौरतलब है कि सत्ता में आने के बाद से ही सरकारी अधिकारी कर्मचारी कांग्रेस के निशाने पर है, और भाजपा मानसिकता के साथ काम करने के आरोप लगाए जा रहे हैं| चाहे बिजली कटौती का मुद्दा हो, इस पर भी कांग्रेस सरकार ने कई अधिकारी कर्मचारियों पर करवाई की है| वहीं चुनाव के दौरान निष्पक्ष कार्य न करते हुए लापरवाही करने वाले कर्मचारियों का व्योरा कांग्रेस कार्यकर्ताओं से प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने पीसीसी भेजने के निर्देश दिए हैं| जिसको लेकर सवाल उठ रहे हैं| भाजपा ने इस पर कड़ी आपत्ति जताई है|