BJP-candidate-vd-sharma-in-problem-Angered-former-MLAs-filled-nomination-Independent

भोपाल| मध्य प्रदेश में नाराज नेताओं ने भाजपा की मुश्किलें बढ़ा रखी है| एक दर्जन से अधिक प्रत्याशियों का क्षेत्र में अलग अलग कारणों से विरोध देखने को मिल रहा है| बीजेपी में सबसे ज्यादा कलह खजुराहो के फैसले को लेकर है, जहां संघ की पसंद वाले नेता वीडी शर्मा को टिकट दिया गया है| शर्मा ने गुरूवार को नामांकन भी जमा कर दिया है| वहीं उनके विरोध में उतरे नेता भी निर्दलीय मैदान में कूद पड़े हैं| खजुराहो सीट से नामांकन के अंतिम दिन दो पूर्व विधायकों ने निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में नामांकन फार्म जमा कर दिया है|  

वीडी शर्मा के खिलाफ निर्दलीय नामांकन भरने वालों में कटनी मुड़वारा से विधायक रहे सुकीर्ति जैन और गिरिराज किशोर पोद्दार शामिल हैं| पिछले दिनों पोद्दार ने इस फैसले के खिलाफ इस्तीफा दे दिया था| हालाँकि इस्तीफे को लेकर पार्टी की और से कोई अधिकृत बयान सामने नहीं आया| इसके अलावा पन्ना भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष जयप्रकाश चतुर्वेदी और छतरपुर से पूर्व जिला उपाध्यक्ष सुधीर शर्मा ने भी फार्म भरा है| निर्दलीय नामांकन जमा करने वाले चारों नेताओं का कहना है कि जनता यहां स्थानीय प्रत्याशी चाहती है, लेकिन पार्टी ने बाहरी को टिकट दिया| वहीं डैमेज कंट्रोल में जुटी भाजपा ने नाराज नेताओं को मनाने की कोशिश तेज कर दी है|  पूर्व विधायक गिरिराज पोद्दार और सुकीर्ति जैन से बातचीत का जिम्मा पूर्व मंत्री संजय पाठक को दिया गया है, इन नेताओं को नाम वापस लेने के लिए मनाया जा रहा है, खजुराहो में नाम वापसी की आखिरी तारिख 22 अप्रैल है। वहीं खजुराहो में वीडी शर्मा के खिलाफ हो रहे विरोध को देखते हुए नामांकन के दौरान वरिष्ठ नेता साथ आए। गुरुवार को उनके नामांकन के दौरान पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा, नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव, वरिष्ठ नेता सहस्त्रबुद्धे माैजूद रहे।

नामांकन निरस्त करने की मांग, कांग्रेस ने की शिकायत 

बीडी शर्मा के नामांकन के दौरान 5 से अधिक लोगों के मौजूद होने पर कांग्रेस ने आपत्ति दर्ज कराई है|  खजुराहो संसदीय क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी बीडी शर्मा ने गुरुवार को पूरे तामझाम के साथ अपना नामांकन फाॅर्म जमा कराया। भाजपा प्रत्याशी के नामांकन के दौरान रिटर्निंग अधिकारी कार्यालय में 5 से अधिक संख्या में लोग मौजूद थे। यह निर्वाचन आयोग के नियमों के खिलाफ है। इस मामले में मप्र कांग्रेस ने मुख्य निर्वाचन अधिकारी को शिकायत करते हुआ बीडी शर्मा के खिलाफ आचार संहिता उल्लंघन का मामला दर्ज कराते हुए नामांकन निरस्त करने की मांग की है।   मप्र कांग्रेस के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने भाजपा में मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय भोपाल में शिकायत दर्ज कराई है। नरेंद्र सलूजा ने रिटर्निंग अधिकारी कार्यालय में अधिक लोगों की मौजूदगी को आचार संहिता का उल्लंघन बताया है। इसके लिए भाजपा प्रत्याशी को जिम्मेदार ठहराते हुए उनके खिलाफ आचार संहिता के उल्लंघन का प्रकरण दर्ज कराने और भाजपा प्रत्याशी का नामांकन निरस्त कराने की मांग की है।