भोपाल। भाजपा ने आरोप लगाए हैं कि झाबुआ विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेसी मतदाताओं को धमका रहे हैं। कांग्रेस नेताओं एवं मंत्रियों द्वारा शासकीय कर्मचारियों के माध्यम से मतदाताओं पर दबाव बनाया जा रहा है, उन्हें डराया धमकाया जा रहा है। इसलिए झाबुआ उपचुनाव के लिए सेंट्रल आब्जर्वर की नियुक्ति की जाए, ताकि चुनाव निष्पक्ष रूप से संपन्न हो सके ।

भाजपा के प्रतिनिधिमंडल ने निर्वाचन आयोग को की गई शिकायत में कहा है कि झाबुआ, राणापुर, बोरी, कुंदनपुर एवं कल्याणपुरा क्षेत्र में कांग्रेस के कई नेता एवं मंत्री आदिवासियों को सरकारी कर्मचारियों के माध्यम से डरा- धमका रहे हैं। इसके चलते मतदाता बुरी तरह भयभीत और घबराया हुआ है। इससे चुनाव की निष्पक्षता प्रभावित होगी। राणापुर क्षेत्र में कांग्रेस प्रत्याशी स्वयं श्री कांतिलाल भूरिया ने आतंक का वातावरण बना रखा है। झाबुआ जिले में की राजस्थान के बांसवाडा जिले से लगी सीमा से भारी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता आ रहे हैं, जो गाडिय़ों के माध्यम से क्षेत्र में पैसा, धोती, साडिय़ां,  शराब एवं कंबल जैसी अन्य सामग्री पहुंचाकर चुनाव को प्रभावित करने का काम कर रहे हैं। प्रतिनिधिमण्डल ने इस मामले में तत्काल संज्ञान लेकर सड़कों एवं अन्य छोटे रास्तों पर विशेष चेक पोस्ट स्थापित करने तथा परिस्थितियों को देखते हुए सेन्ट्रल आब्र्जवर की नियुक्ति किए जाने की मांग की है।