सारंग बोले-कोई विधायक कहीं नहीं जाएगा, शर्मा ने कहा- BJP बैठक करती रह जाएगी MLA गायब हो जाएंगे

BJP-CONGRESS-LEADERS-STATEMENT-MP

भोपाल।

मध्यप्रदेश में लगातार सियासी हलचल जारी हैं। प्रदेश सरकार और विपक्ष द्वारा एक दूसरे पर खरीद फरोख्त के आरोप लगाए जा रहे है, साथ ही विधायकों के संपर्क में होने का दावा किया जा रहा है। इसी बीच प्रदेश के पूर्व मंत्री विश्वास सारंग ने कांग्रेस सरकार पर हमला बोलते हुए कहा है कि कांग्रेस के मंत्री जमीन पर नहीं हैं, और  कांग्रेस सत्ता के लोभ में मदमस्त हो गई है। नारायण त्रिपाठी और शरद कोल के के बैठक में ना आने पर सारंग ने कहा दोनों विधायक हमारे अपने है कोई कही नही गया और न जाएगा।

बीजेपी विधायक विश्वास सारंग ने मंत्री जीतू पटवारी के बयान ”दो दांत तोड़े है फिर पूरी बत्तीसी तोड़ देंगे” को लेकर कहा है कि जीतू पटवारी का बयान बेहद आपत्तिजनक  है। जीतू  सत्ता के नशे में मदमस्त है, वह सब भूल गए है। कांग्रेस के मंत्री  जमीन पर नही है, कांग्रेस सत्ता के लोभ में मदमस्त है। सारंग ने आगे कहा कि अल्पमत की यह सरकार ज्यादा दिन नही चलेगी। यह सरकार अपने आप गिर जाएगी। वहीं प्रदेश की कांग्रेस सरकार पर जमकर आरोप लगाया है औऱ कहा कि इस सरकार में किसी वर्ग को कोई विश्वास नहीं है।

सारंग ने सरकार के ”आपकी सरकार आपके द्वार” को दिखावा बताया। बीजेपी की सदस्यता अभियान की बैठक में कई विधायको के नहीं पहुंचने पर विश्वास सारंग ने कहा है कि जो विधायक नहीं आए थे उन्होंने पहले ही सूचना दे दी थी। ये कोई बड़ी बात नहीं है। नारायण त्रिपाठी और शरद कोल के नहीं पहुंचने पर उन्होंने कहा है कि  दोनों विधायक बीजेपी के साथ हैं। दोनों विधायक हमारे अपने है कोई कही नही गया और न जाएगा, यह लफ्फाजी की सरकार है ।अल्पमत की यह सरकार ज्यादा दिन नही चलेगी। 

कांग्रेस का पलटवार

इधर  विश्वास के बयान पर पलटवार करते हुए पीसी शर्मा ने उन्हें धरातल पर रहकर कांग्रेस सरकार के कार्य देखने की नसीहत दी। पीसी शर्मा ने कहा बीजेपी बैठक करती रह जाएगी और विधायक गायब हो जाएंगे। दोनों विधायक नारायण त्रिपाठी और शरद कोल तो आ ही चुके है। बीजेपी बैठक ही इसलिए कर रही कि कही और तो नही कम हो गए। 

बता दे कि गुरुवार को प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने भाजपा को चुनौती देते हुए कहा है कि अभी तो दो दांत (विधायक) ही टूटे हैं, यही हरकतें रहीं तो बत्तीसी टूट जाएगी। उन्होंने स्पष्ट कहा कि कांग्रेस किसी से संपर्क नहीं कर रही, कांग्रेस पार्टी किसी को तोडऩा खरीदना नहीं चाहती, लेकिन जो विधायक व्यथित हैं, वह हमारे साथ आ रहे हैं।