विधानसभा हारने के बाद अब इस चेहरे पर लोकसभा चुनाव लड़ेगी बीजेपी

bjp-is-preparing-for-loksabha-election

भोपाल। विधानसभा चुनाव  में हार के बाद अब बीजेपी का फोकस लोकसभा चुनाव पर है। पार्टी बैठक कर नई रणनीतियों को तैयार करने में जुटी है। पार्टी इस बार भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम को फोकस कर चुनाव लड़ेगी। पिछले साल मशहूर पत्रिका फोर्ब्स ने दुनिया के सबसे ताकतवर हस्तियों की सूची जारी कर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को विश्व के प्रभावशाली हस्तियों की लिस्ट के टॉप टेन में शामिल किया था। पार्टी का मानना है कि देश के युवाओं में मोदी की लोकप्रियाता बरकरार है। युवाओं से जुड़े कार्यक्रमों में मोदी के नाम के साथ अंग्रेजी के शब्दों का उपयोग भी पार्टी कर रही है, जबकि इससे पहले भाजपा अंग्रेजी से संयमित दूरी बनाकर ही चलती रही है।


– मोदी का असर

– नेशन विद् नमो वॉलेंटियर नेटवर्क

वॉलेंटियर के रूप में युवाओं को जोड़ा जाएगा। वेबसाइट, मिस्डकॉल और सोशल मीडिया के जरिए वॉलेंटियर जोड़े जाएंगे।

– पहला वोट मोदी को

भाजपा का यह अभियान पहली बार वोट डालने वाले युवाओं पर केंद्रित रहेगा। मोदी की लोकप्रियता को देखते हुए पार्टी मोदी के नाम पर युवाओं का पहला वोट मांग रही है।

– नेशन विद् नमो

नगर निगम स्तर पर लेखकों के सम्मेलन किए जाएंगे। इसमें मोदी पर लेख लिखने वाले लेखकों को बुलाकर उनके सेमिनार किए जाएंगे।

– प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के अलग-अलग स्थानों के कार्यकर्ताओं से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बात करेंगे। इसके लिए 27 जनवरी और 24 फरवरी तय की गई है।

– मोदी की मन की बात

भाजपा की रिपोर्ट में सामने आया है कि प्रधानमंत्री की मन की बात सुनने वालों में कमी आई है। पार्टी एक बार फिर मन की बात पर फोकस करके। जगह-जगह कार्यकर्ताओं को यह कार्यक्रम सुनाने का अभियान चलाने जा रही है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हम सभी के आदर्श हैं। लोकसभा चुनाव हम उनके नेतृत्व में लड़ रहे हैं, इसलिए उन पर केंद्रित कार्यक्रम होना स्वाभाविक है।

विजेश लुनावत, उपाध्यक्ष, प्रदेश भाजपा