“दल पर नहीं, निर्दलीय पर भरोसा है कमलनाथ को”, शेरा को लेकर बीजेपी ने फिर कसा तंज

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। बीजेपी के वरिष्ठ नेता और प्रवक्ता डॉ हितेश बाजपेई (Dr. Hitesh Bajpai) ने कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ (kamalnath) को आड़े हाथों लेते हुए कहा है कि उन्हें अपने दल के लोगों पर नहीं बल्कि निर्दलीय पर भरोसा है। इसीलिए सुरेंद्र सिंह शेरा (Surendra Singh Shera) को राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की यात्रा की जिम्मेदारी सौंपी गई है। वाजपेई ने कमलनाथ पर अरुण यादव को दरकिनार करने का आरोप भी लगाया। बुरहानपुर से शुरू होने वाली राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा मध्यप्रदेश में 13 दिन प्रवास करेगी खंडवा और बुरहानपुर की यात्रा की तैयारियों की जिम्मेदारी निर्दलीय विधायक सुरेंद्र सिंह शेरा को सौंपी गई है।

MP News : सीएम शिवराज ने की इस साल गेंहू के समर्थन मूल्य की घोषणा, कन्या पूजन के साथ कृषि मेले का शुभारंभ

बीजेपी इसे लेकर आरोप लगा रही है कि अरुण यादव (Arun yaday) को दरकिनार कर दिया गया है। गृह मंत्री डॉक्टर नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) ने ट्वीट करते हुए लिखा था कि यदुवंशियों से इतनी दूरी क्यों बना कर रखी गई है। वही अब बीजेपी के प्रवक्ता डॉ हितेश बाजपेई ने बयान दिया है और उन्होंने कहा है कि कमलनाथ को अपने दल के लोगों पर नहीं बल्कि निर्दलीयों पर भरोसा है इसलिए सुरेंद्र सिंह शेरा को यह जिम्मेदारी सौंपी गई है। अरुण यादव जैसे बड़े नेता को दरकिनार करना तो वास्तव में आश्चर्यजनक है। बाजपेई ने कहा कि कमलनाथ ने पूरे मध्यप्रदेश में एक भी विधायक इस लायक नहीं समझा कि वह यात्रा का प्रभारी बन सके। उन्होने तंज कसते हुए कहा कि मध्य प्रदेश के लोग निर्दलीयों की स्थिति अच्छी तरह जानते हैं कि वे चलते किस तरह हैं। उन्होंने कमलनाथ से सवाल करते हुए कहा कि मध्यप्रदेश में कांग्रेस क्या पूरी तरह बैंकरप्ट हो गई है और एक भी विधायक इस लायक नहीं कि वह यात्रा की जिम्मेदारी संभाल सके।

वहीं दूसरी ओर सुरेंद्र सिंह शेरा यह साफ कर चुके हैं कि वे मूलतः कांग्रेस के हैं और उनकी तीन पीढ़ियां लगातार इंदिरा गांधी राजीव गांधी और राहुल गांधी के संपर्क में रहे हैं। शेरा ने यह भी साफ किया कि वह कभी बीजेपी में नहीं थे और अगली बार भी वह कांग्रेस के लिए ही काम करेंगे।