मध्य प्रदेश को नहीं चाहिए रोतेला मुख्यमंत्री : प्रभात झा

bjp-leader-prabhat-jha-attack-on-cm-kamalnath

भोपाल| मध्य प्रदेश में छह माह में ही नई सरकार के सामने चुनौतियों का अम्बार लग गया है| एक तरफ विपक्ष द्वारा सरकार की स्थिरता को लेकर उठाये जा रहे सवालों ने मुख्यमंत्री कमलनाथ को परेशानी में डाल रखा है, वहीं भीषण गर्मी में बिजली कटौती और जलसंकट से हाहाकार मचा हुआ है| जिसको लेकर बीजेपी ने सरकार की घेराबंदी तेज कर दी है| विधानसभा सत्र से पहले प्रदेश में सरकार के खिलाफ जबरदस्त माहौल बनाने की तैयारी है| बीजेपी नेता बिजली और पानी को लेकर बिगड़े हालातों का हवाला देते हुए सरकार से इस्तीफा देने की मांग कर रही है| अब बीजेपी के वरिष्ठ नेता प्रभात झा ने बड़ा हमला बोलते हुए कहा है कि मध्य प्रदेश को रोतेला मुख्यमंत्री नहीं बल्कि जनता की समस्याओं को दूर करने वाला मुख्यमंत्री चाहिए| 

दरअसल, भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा ने ट्वीट कर मुख्यमंत्री कमलनाथ पर हमला बोला है| उन्होंने लिखा है कि “मध्य प्रदेश के आधे से अधिक जिलों में पानी के लिए हाहाकार है। गांव-गांव में अन्धकार छा गया है। बेबस मुख्यमंत्री कमलनाथ जी मोबाइल के रिसीवर को खोलकर अधिकारियों को सुना रहे हैं की देख लो प्रदेश की क्या हालत है”। “मध्य प्रदेश को रोतेला मुख्यमंत्री नहीं बल्कि जनता की समस्याओं को दूर करने वाला और जिनकी वाणी में हनक और खनक हो उसे मुख्यमंत्री होना चाहिए”। 

अफसरों पर बरसे कमलनाथ, बीजेपी ने साधा निशाना 

प्रदेश में हो रही अघोषित बिजली कटाैती से नाराज मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मंगलवार को ऊर्जा विभाग के अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई और फ़ोन का स्पीकर ऑन कर अफसरों को जमीनी हकीकत बताई|  उन्होंने फोन का स्पीकर ऑन कर तीन विधायकों से अधिकारियों के सामने बात की और इसके बाद अधिकारियों से कहा कि क्या जनप्रतिनिधि, जनता और मीडिया तीनों झूठ बाेल रहे हैं और आप लोग सही हैं। इस बात के कोई मायने नहीं हैं कि आपने क्या किया है। कमलनाथ करीब एक घंटे लगातार नाराजगी भरे लहजे में बोलते रहे। बैठक में मुख्य सचिव एसअार मोहंती, अपर मुख्य सचिव आईसीपी केसरी, विद्युत वितरण कंपनियों के प्रबंध संचालक आदि उपस्थित थे। 

मध्य प्रदेश को नहीं चाहिए रोतेला मुख्यमंत्री : प्रभात झा