bjp-leader-rajneesh-agrawal-attack-on-congress-on-masood-azahar-case-

भोपाल| आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर मामले में भारत को बड़ी कामयाबी मिली है। संयुक्त राष्ट्र ने मसूद अजहर को अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित कर दिया है|  संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा परिषद ने जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर के खिलाफ ये कार्रवाई की है| भाजपा ने इसे देश की बड़ी जीत बताया है, देश में अब तक हुए कई आतंकी हमलों में जैश सरगना का हाथ था| चुनावी समय में हुए इस बड़े फैसले पर राजनीति में चर्चा शुरू हो गई है| बीजेपी प्रदेश प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने देशवासियों को बढ़ाई देते हुए कांग्रेस पर भी निशाना साधा है| 

बीजेपी प्रवक्ता अग्रवाल ने ट्वीट कर लिखा “अजहर मसूद को अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित किये जाने नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत की जीत और चीन के अड़ंगे पर खुश होकर चिढ़ाने वाली कांग्रेस के दोनों गालों पर करारे तमाचे। भारत माता की जय। वंदे मातरम।”

 बता दें, जैश-ए-मोहम्मद ने 14 फरवरी को पुलवामा में आतंकी हमला किया था| इसके बाद से ही भारत लगातार मसूद को वैश्विक आतंकी घोषित कराने की कोशिश कर रहा था| अब 75 दिन बाद उसे कामयाबी मिल गई है|  पाकिस्तान स्थित जैश-ए-मोहम्मद का प्रमुख मसूद अजहर पर बुधवार एक मई को बड़ा फैसला हो गया है। उसे संयुक्त राष्ट्र में वैश्विक आतंकी घोषित कर दिया गया है| इससे पहले एक मई को होने वाली यूएन प्रतिबंध कमेटी की बैठक में चीन मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने पर लगाए गए अपने टेक्निकल होल्ड को वापस ले लिया है। इससे प्रतिबंधित समूह के खिलाफ वैश्विक वित्तीय प्रतिबंध लगाने का रास्ता साफ हो जाएगा। मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने के लिए संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा समिति के सदस्य देश अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस लगातार कोशिश कर रहे थे, लेकिन बार-बार चीन इस पर वीटो लगा दे रहा था| चीन अभी तक चार बार वीटो लगा चुका था, लेकिन पांचवीं बार मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने के प्रस्ताव पर वह राजी हो गया है| मसूद को प्रतिबंधित करने के लिए भारत सहित अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन प्रस्ताव ला चुके हैं लेकिन बार-बार चीन इस पर वीटो लगा दे रहा था|