बीजेपी विधायकों पर अर्थी छीनने का आरोप

भोपाल। राजनीति किस कदर कैसा रूप लेती जा रही है ,दिन पर दिन चिंता का विषय होता जा रहा है ।सागर में दलित युवक की मौत को लेकर प्रदेश और देश भर में मचे कोहराम के बीच अब एक नया बवाल खड़ा हो गया है। दरअसल 23 जनवरी 2020 को सागर में एक हमले के दौरान धन प्रसाद नाम के युवक की मौत हो गई थी जिस को लेकर राज्य सरकार पर बीजेपी ने जमकर हमला बोला था और कहा था कि इलाज के अभाव में और पर्याप्त सुरक्षा का इंतजाम ना होने के कारण यह घटना हुई ।अब मृतक के सगे भाई धनीराम अहिरवार ने सागर के एसपी को एक आवेदन दिया है जिसमें बीजेपी के सागर विधायक शैलेंद्र जैन और नरयावली विधायक प्रदीप लारिया पर आरोप लगाया है कि उन्होंने शव यात्रा के दौरान सुनियोजित ढंग से लोगों को चक्का जाम के लिए उकसाया और जब ऐसा नहीं हुआ तो जगन्नाथ गुरैया और उनके साथियों ने मोती नगर चौराहे के पहले न केवल अर्थी छीन ली बल्कि चक्का जाम भी कर दिया। अहिरवार ने आगे आवेदन में लिखा है कि हम अनुसूचित जाति वर्ग से आते हैं और अर्थी के साथ झूमा झटकी कानूनन दंडनीय अपराध है ।सागर एसपी को दिए आवेदन में अहिरवार ने अर्थी छीन कर चक्का जाम कराने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने और परिवार को सुरक्षा देने की भी मांग की है।