बीजेपी सांसद का दावा, ‘संस्कृत बोलने से दूर होगा डायबिटीज और कोलेस्ट्रॉल’

भोपाल| मध्य प्रदेश की सतना लोकसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी के सांसद गणेश सिंह का एक बयान सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है| यह बयान उन्होंने संसद में दिया है| सांसद गणेश सिंह का कहना है कि रोजाना संस्कृत भाषा बोलने से तंत्रिका तंत्र मजबूत होता है और मधुमेह तथा कॉलेस्ट्रॉल कम होता है| 

गणेश सिंह ने संस्कृत यूनिवर्सिटीज़ पर लाए जाने वाले बिल पर बोलते हुए अमेरिकी संस्थान की एक रिसर्च के हवाले से यह बयान दिया है|  गणेश सिंह ने दावा किया कि अमेरिका के एक शैक्षणिक संस्थान के शोध के मुताबिक रोजाना संस्कृत भाषा बोलने से नर्वस सिस्टम (तंत्रिका तंत्र) को तंदुरुस्ती मिलती है| उन्होंने बताया कि इससे डायबिटीज और कोलेस्ट्रॉल भी दूर रहता है| 

वह यहीं नहीं रुके, उन्होंने अमेरिकी स्पेस एजेंसी ‘नासा’ के हवाले से कहा कि अगर कंप्यूटर प्रोगामिंग संस्कृत में हो तो यह बेहद शानदार काम करेगा| बीजेपी सांसद ने कहा कि दुनियाभर की 97 फीसदी भाषाएं जिसमें इस्लामिक भाषाएं भी शामिल हैं, का मूल संस्कृत ही है| इन भाषाओं की बुनियाद संस्कृत रही है| इसी संस्कृत विधेयक पर चर्चा के दौरान केंद्रीय मंत्री प्रताप चंद्र सारंगी ने संस्कृत भाषा में अपनी बात रखते हुए कहा कि यह काफी लचीली भाषा है जिसमें किसी एक वाक्य को कई तरह से बोला जा सकता है| सारंगी ने कहा, अंग्रेजी के कई शब्द संस्कृत से निकले हैं. इनमें ब्रदर (भाई) और काऊ (गाय) शब्द संस्कृत से लिए गए हैं| उन्होंने कहा कि संस्कृत जैसी प्राचीन भाषाओं को बढ़ावा देने से अन्य भाषाओं पर कोई असर नहीं पड़ेगा|