मिशन-2019 : कांग्रेस सांसदों की घेराबंदी के लिए शाह तैयार कर रहे खाका

BJP-preparing-loksabha-election-plan-for-madhya-pradesh

भोपाल। भाजपा ने लोकसभा चुनाव 2019 के लिए मध्यप्रदेश के लिए एक खास रणनीति तैयार की है मिशन 2019 के तहत प्रदेश की सभी 29 सीटें जीतने का टारगेट भाजपा ने तय किया है भाजपा उन 3 लोकसभा सीटों पर जहां कांग्रेस के दिग्गज नेता काबिज हैं अपने राष्ट्रीय नेताओं को चुनाव मैदान में उतारेगी इसके लिए पार्टी ने अभी से खाका तैयार करना शुरू कर दिया है पार्टी लोकसभा चुनाव की तैयारी जनवरी के महीने से शुरू कर सकती है प्रदेश में कांग्रेस के दिग्गज नेता ज्योतिराज सिंधिया अशोकनगर लोकसभा सीट से सांसद हैं प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ छिंदवाड़ा से सांसद हैं यह दोनों नेता मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने की स्थिति मुख्यमंत्री पद के दावेदार भी हैं जबकि पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं पूर्व कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कांतिलाल भूरिया रतलाम झाबुआ सीट से सांसद हैं।

प्रचार के लिए मिलेगा 3 महीने का

पार्टी नेताओं के मुताबिक पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव के परिणाम और सरकार बनने की प्रक्रिया में दिसंबर का महीना निकल जाएगा इसके बाद पार्टी के पास चुनावी तैयारियों के लिए लगभग 3 महीने का समय बचेगा अप्रैल से शुरू में ही आचार संहिता लगने की संभावना है भाजपा की कोशिश है कि चुनाव प्रबंधन से जुड़ी तैयारियों जल्द शुरू कर मार से पहले पूरी कर ली जाए इसके अलावा पार्टी लोकसभा चुनाव से पहले चलाए जाने वाले अभियान भी इसी महीने शुरू करने के प्रयास में है

सरकार नहीं बनी तो पदाधिकारियों को

भाजपा की तैयारी है कि उसकी मध्य प्रदेश में सरकार बनने की स्थिति में प्रत्येक लोकसभा सीट की जिम्मेदारी एक मंत्री को सौंपने की तैयारी है अगर किसी स्थिति में पार्टी की सरकार नहीं बनी तो फिर प्रदेश स्तर के पदाधिकारियों को लोकसभा चुनाव की जिम्मेदारी सौंपी जाएगी

हितग्राहियों के घर पहुंचकर याद दिलाएंगे योजनाओं का लाभ

भाजपा ने चुनाव की तैयारियों के हिसाब से केंद्र की योजनाओं के हितग्राहियों की लिस्ट बनाने का काम शुरू कर दिया है पीएम आवास योजना उज्ज्वल योजना मुद्रा योजना सहित अन्य योजनाओं की लोकसभा लिस्ट तैयार होने पर क्षेत्र के सांसद विधायक और जनपद में जिला पंचायत के सदस्य सहित सभी जनप्रतिनिधि इन के हितग्राहियों से प्रत्यक्ष संपर्क साधने पार्टी की तैयारी यह भी है कि इन हितग्राहियों को ही बूथ स्तर पर तैनात करें हितग्राहियों की सूची बनने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नमो एप के जरिए इन हरामियों से बात करेंगे आचार संहिता लगने से पहले केंद्र सरकार कुछ बड़ी घोषणाएं भी करने वाली है।