बसपा प्रत्याशी ने थामा कांग्रेस का ‘हाथ’, सिंधिया का किया समर्थन

bsp-candidate-dhakad-lokendra-singh-rajput-join-congress-in-guna-shivpuri

भोपाल| लोकसभा चुनाव को लेकर मध्य प्रदेश में सियासत का पारा बढ़ता ही जा रहा है| राजनीतिक दलों में तोड़फोड़ भी जारी है| इस बीच कांग्रेस ने बसपा को बड़ा झटका दिया है|  गुना संसदीय क्षेत्र से बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के प्रत्याशी लोकेंद्र सिंह राजपूत ने सोमवार को कांग्रेस का दामन थाम लिया और कांग्रेस प्रत्याशी और सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया को समर्थन देने का ऐलान किया है| बसपा को प्रदेश में यह दूसरा झटका है| इससे पहले राजगढ़ में भी बसपा प्रत्याशी निशा त्रिपाठी ने भी नामांकन वापस लेते हुए कांग्रेस को समर्थन का ऐलान किया है|

सोमवार को शिवपुरी में गुना संसदीय क्षेत्र के बहुजन समाज पार्टी के प्रत्याशी लोकेंद्र सिंह राजपूत ने कांग्रेस प्रत्याशी ज्योतिरादित्य सिंधिया को अपना समर्थन देने के साथ ही कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर ली। सिंधिया ने लोकेन्द्र सिंह को कांग्रेस का गमछा पहनाकर स्वागत किया| इस दौरान जिला अध्यक्ष बैजनाथ सिंह यादव भी मौजूद रहे| कांग्रेस में शामिल होने के बाद लोकेन्द्र सिंह ने कहा देश को महाराज ज्योतिरादित्य सिंधिया जी जैसे नेतृत्व की आवश्यकता है तभी क्षेत्र का विकास संभव है |

बसपा प्रत्याशी के एकाएक कांग्रेस में शामिल हो जाने के कारण चुनावी माहौल गर्मा गया है| इससे पहले भी गुना-शिवपुरी संसदीय क्षेत्र में सिंधिया ने बड़ी तोड़फोड़ की है, जिसके पहले से ही कयास लगाए जा रहे थे| हाल ही में पूर्व मंत्री केएल अग्रवाल ने भी कांग्रेस का हाथ थामा है, इससे पहले ग्वालियर के पूर्व उप महापौर और बसपा नेता रामनिवास सिंह गुर्जर ने भी सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के सामने घर वापसी की| गुना और शिवपुरी शहर से लीड लेने के लक्ष्य के चलते सिंधिया सभी विरोधियों को साथ ला रहे हैं| अब तक जितने भी नेताओं ने कांग्रेस का हाथ थामा है यह कभी सिंधिया के धुरविरोधी हुआ करते थे| वहीं बसपा प्रत्याशी लोकेन्द्र सिंह तो जनसम्पर्क कर सिंधिया के खिलाफ ताल ठोक रहे थे| उनके अचानक कांग्रेस में आने के बाद क्षेत्र की सियासत में हलचल मच गई है|