bsp-head-mayawati--attack-on-congress-assembly-election-mp

भोपाल।

कमजोर स्थिति को देखते हुए कांग्रेस गठबंधन चाहती थी। ऐसी स्थिति में बीएसपी ने अकेले ही लड़ने का फैसला लिया। कांग्रेस खिसियानी बिल्ली खंभा नोचे की तरह बीएसपी पर जानबूझकर गलत आरोप लगा रही है। हमने टिकट सही समाज के लोगों को दिए हैं।बीएसपी ही अकेली एक मात्र पार्टी जो विदेशी पूंजी पतियों और धन्ना सेठों की नहीं बल्कि अपनी ही जमा-पूंजी से चुनाव लड़ती है। यह बात मध्य प्रदेश में अपनी पार्टी के प्रत्याशियों के चुनाव प्रचार के लिए भोपाल पहुंची बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने कही।

दशहरा मैदान में जनसभा के दौरान BSP प्रमुख मायावती ने कहा कि एमपी में दलितों और अल्पसंख्यकों, किसानों का उत्थान नहीं किया गया। कांग्रेस और बीजेपी ने आरक्षण का कोटा अभी तक नहीं पूरा किया। बीजेपी नहीं चाहती थी कि मंडल कमीशन की रिपोर्ट लागू हो।गरीबी, बेरोजगारी, महंगाई,डीजल-पेट्रोल की बढ़ी कीमतों के लिए केंद्र की गलत नीतियां जिम्मेदार है। उन्होंने कहा कि केंद्र की पहले रही कांग्रेस की सरकार हो या मौजूदा बीजेपी सरकार दोनों ने दलितों, अल्पसंख्यकों के लिए कुछ नहीं किया। बीजेपी और कांग्रेस प्रलोभन भरे घोषणा पत्र जारी करती हैं। बीएसपी कभी घोषणा पत्र जारी नहीं करती ।बीएसपी कहने में कम और करने में ज्यादा विश्वास करती है ।

मायावती ने कहा कि अगर कांग्रेस पार्टी अब तक के शासन काल में पचास फीसदी वायदे भी पूरी करती तो भाजपा आज इतनी आगे नहीं बढ़ती और न ही उसकी कई प्रदेशों सहित केंद्र में उसकी कहीं सरकार होती।  मायावती ने कहा कि कांग्रेस बसपा के सर्वोच्च नेतृत्व पर अनर्गल आरोप लगा रही हैं। हमने टिकट बंटवारे में भी सर्व समाज के लोगो को टिकिट दिया है। देश को आज हुए भारतीय संविधान को लागू हुए बरसो बीत चुका हैं। कांग्रेस और बीजेपी की सरकार रही तब भी सर्व समाज मे से दलीतो आदिवासियो पिछड़े वर्गों मुस्लिमो व अन्य धर्मिक साथ साथ साथ गरीबो मजदूरों किसानों व्यापारियों का कोई खास विकास नही हो सका हैं।