उपचुनाव : टिकट वितरण के बाद कांग्रेस में असंतोष, नरोत्तम मिश्रा बोले- भगदड़ की स्थिति है

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। एमपी (MP) में उपचुनाव (By-election) से पहले सियासी गलियारों में जुबानी जंग जोरों पर है। मुद्दा चाहे जो भी हो दोनों ही दल एक दूसरे पर हमला करने से नही चूक रहे है। अब टिकट वितरण के बाद कांग्रेस में मचे घमासान पर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा (Home Minister Narottam Mishra) ने तंज कसा है। मंत्री नरोत्तम ने कहा कि कांग्रेस डूबता जहाज है, कोई भी अब कांग्रेस में रहना नहीं चाहता। कांग्रेस में भगदड़ की स्थिति है चाहे वह माने या ना माने। वही पीसीसी चीफ कमलनाथ (Kamalnath) के दौरे को लेकर नरोत्तम मिश्रा ने कहा सिर्फ एक ही दिन निकले थे वह जनता के बीच में जा ही नहीं रहे हैं।

वही उन्होंने कांग्रेस विधायक के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि ब्यावरा से कांग्रेस विधायक गोवर्धन सिंह दांगी जी के निधन का दुखद समाचार मिला। ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शांति और परिजनों को यह गहन दुख सहने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना करता हूँ।

यह पहला मौका नही है जब मिश्रा ने कांग्रेस के टिकट वितरण पर चुटकी ली हो, इसके पहले सोमवार को मिश्रा ने कहा था कि वही कांग्रेस के प्रत्याशियों को लेकर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि उनके पास प्रत्याशी कहां है, केवल दलबदलू लोग हैं, कांग्रेस का खुद का कोई प्रत्याशी नहीं है। जब पूरी सूची जारी होगी तो एक दर्जन से ज्यादा वही लोग होंगे जो बाहर के दल से आए हुए। कांग्रेस के पास ग्वालियर चंबल अंचल में कार्यकर्ता बचा नहीं हैं , उनके पास प्रत्याशियों का टोटा है, इसलिए जो तथाकथित बचे हैं उनको तकलीफ हो जाती है

वही विधानसभा में होने वाली सर्वदलीय बैठक को लेकर मिश्रा ने कहा कि विधानसभा सत्र के पूर्व सर्वदलीय बैठक बुलाई जाती है , मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और नेता प्रतिपक्ष सहित सभी दलों के लोग इस बैठक में शामिल होंगे। सत्र को लेकर तमाम चर्चाएं और सीटिंग अरेंजमेंट कैसा हो, इसकी चर्चा की जाएगी। प्रश्नकाल हो या ना हो तमाम मुद्दों पर भी चर्चा होगी।

बता दे कि एमपी कांग्रेस ने उपचुनाव की 27 सीटों में से 15 सीटों पर प्रत्याशियों का ऐलान कर दिया है। कांग्रेस ने ज्यादातर उन लोगों को मैदान में उतारा है जो या तो बसपा-बीजेपी से आए है या फिर निर्दलीय,जिसको लेकर स्थानीय और टिकट के लिए अपनी दावेदारी ठोक रहे नेताओं में असंतोष व्याप्त हो गया है, लगातार डबरा, भांडेर और नेपानगर से  अंतर्कलह और विरोध  की खबरें  सामने आ रही है।एक तरह जहां इस घमासान से कांग्रेस में खलबली मची हुई है वही बीजेपी इस पर चुटकी लेने से बाज नही आ रही है।