भाजपा ने नफरत फैलाने, कांग्रेस ने जोड़ने का काम कियाः आरिफ मसूद

भोपाल। भाजपा ने हमेशा देश में नफरत फैलाने का काम किया है और कांग्रेस हमेशा लोगों को जोड़ने का काम करती है। इस काले कानून को भाजपा देश में लाकर नफरत फैलाने का कार्य कर रही है। कांग्रेस हमेशा सभी को साथ लेकर चलने वाली पार्टी है। भाजपा अपने एक भी नेता का नाम बताए जिसने आजादी में अपनी कुर्बानी दी है। कांग्रेस पार्टी ने आजादी की लड़ाई में अपने नेता शहीद किए हैं। यह बात मध्य विधायक आरिफ मसूद ने करोंद स्थित हाउसिंग बोर्ड दशहरा मैदान में एनआरसी और सीएए के वार्ड 77 पार्षद मुबारिका कमरूददीन द्वारा आयोजित विरोध प्रदर्शन के दौरान कही।

उन्होंने कहा कि हमारे इस विरोध में सबसे ज्यादा हिन्दु भाई हमारे साथ हैं। मैंने इस काले कानून के विरोध प्रदर्शन कर कहा था कि यदि यह मप्र में लागू होता है तो मैं अपने विधायक पद से इस्तिफा दे दूंगा। इसके बाद अनेक लोगों ने मुझे कहा कि आपने जसवात में इतनी बड़ी बात बोल दी। मैं धन्यवाद करना चाहता हूं मुख्यमंत्री कमलनाथ जी का जिन्होंने उस बयान के तीन बाद ही घोषणा जो बिल पास हुआ है उसे प्रदेश में लागू नहीं किया जाएगा। आरिफ मसूद ने कहा कि आज इस देश में जो हालात बने उसके जिम्मेदा हम हैं। हमने ही इन्हें पनपने का मौका दिया है। मैं प्रियंका गांधी जी को धन्यवाद देता हूं जो भारी सर्द रात में इस काले कानून के विरोध में इंडिया गेट पर प्रदर्शन पर बैठी रही। मैं दिग्विजय सिंह जी भी धन्यवाद देता हूं जो इकबाल मैदान में आयोजित विरोध प्रदर्शन में इसके विरोध में खडे़ हुए। उन्होंने कहा कि नफरत की बात हमेशा आरएसएस और बीजेपी करती है। यह मुल्क ज्यादा दिन तानाशाही बर्दाश्त नहीं करेगा। ये वक्त जालीमों के खिलाफ खडे़ होने का है। उन्होंने भोपाल सांसद प्रज्ञा ठाकुर पर आरोप लगाते हुए कहा  िकवह इवीएम की सांसद हैं। यदि सही चुनाव होते तो सांसद दिग्विजय सिंह होते। हाउसिंग बोर्ड दशहरा मैदान में भीड़ कम होने पर उन्होंने कहा कि आज भी हम उतनी तादाद में इस लड़ाई में शामिल नहीं हो रहे जितना होना चाहिए। विधायक मसूद ने इंकलाब जिन्दाबाद हमसब एक है के नारों के साथ सभा का समापन कराई।

न्दु मुस्लिम को लड़ाने चाहते हैं

जिला कांग्रेस अध्यक्ष कैलाश मिश्रा ने अपनी बात रखते हुए कहा कि इस तरह के काले कानूनों को लाकर केन्द्र की भाजपा सरकार हिन्दु मुस्लिम भाईयों को लड़ाना चाहती है। परंतु इस देश का नागरिक समझदार है वह आपके बहकावे में नहीं आएगा। इस काले कानून का विरोध संपूर्ण देश में हो रहा है। इसके विरोध में प्रदेश के मुखिया कमलनाथ जी ने पैदल मार्च भी किया है और इसे प्रदेश में लागू न करने की घोषणा की है। हम सब एकसाथ इसका विरोध करते हैं। आरिफ मसूद विधायक मध्य इस काले कानून के विरोध में शुरू से ही खडे़ और उन्होंने अपनी विधायकी तक समाप्त करने की घोषणा इसके विरोध में कर दी थी। ओसाफ शाहमिरी शेख खुर्रम ने भी लोगों के बीच बोलते हुए कहा कि हमने हमेशा इस देश को अपना समझा है। आजादी के बाद हम हमारे देश को छोड़ नहीं गए और तिरंगे की शान में हमेशा खडे़ रहे। इसी के साथ सूफी नूरउद्दीन सकलैनी सदर एहले सुन्नत वलजमात, जिला किसान कांग्रेेस अध्यक्ष साजिद अंसारी, जिला कांग्रेस उपाध्याक्ष कमरूददीन दाउदी, असमत सिद्दीकी, आशीष ओझा, शहीद जनता नगर ने भी विरोध में अपना संबोधन दिया। मंच का संचालन वरिष्ठ कांग्रेस नेता आसिफ कुरैशी द्वारा किया गया।  

विरोध प्रदर्शन में मुख्य रूप से करोंद ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष गीता सैनी,प्रवेन्द्र शर्मा, बाबू भाई, मो.मसरूर खॉन, नारायण सिंह ठाकुर, जिला ग्रामीण कांग्रेस उपाध्याक्ष जयनारायण राजपूत, मनोज शर्मा,रहीम भाई, कमर मियां, दीपक दीवान, बाबर खॉन, हफीज भाई, शेख उमर, आकिल खॉन, हफीज खॉन सददाम भाई, आसिफ भाई, गुडडू भाई, इकबाल भाई, समीर भाई, जावेद भाई, मुवीन उस्मानी, उमेद शकिल, सादिक इमाम, रईस खॉन, शेरू खॉन, इमरान भाई, मुन्नबर अली खान, इरशाद अली खॉन, खुजेमा दाउदी, इशाक भाई सहित अन्य बड़ी संख्या में लोग उपस्थित रहे।  

नहीं मनाया जन्मदिन

कांग्रेस नेत्री नगर निगम भोपाल वार्ड क्रमांक 77 पार्षद मुबारिका कमरूददीन दाउदी का जन्मदिन 1 जनवरी को था। परंतु उन्हांेने एनआरसी और सीएए के विरोध में अपनी जन्मदिवस नहीं मनाया और इसके विरोध में प्रदर्षन सभा का आयोजन किया। इसी के साथ कांग्रेस नेता शकील खॉन ने भी अपना जन्मदिन नहीं मनाया।